गोपियों को अकेला छोड़कर कृष्ण कहां चले गए थे | Gopiyon Ko Chhodkar Krishna Kahan Chale Gaye The

गोपियों को अकेला छोड़कर कृष्ण कहां चले गए थे : श्रीकृष्ण का बचपन वृंदावन की गलियों में बीता। श्रीकृष्ण भगवान अपनी लीलाओं से सभी को प्रसन्न के साथ साथ परेशान भी करता रहता था। बड़े होकर कृष्ण ने अपनी बांसुरी की मधुर ध्वनि से कई गोपियों का दिल जीत लिया। उनकी बांसुरी पर सबसे ज्यादा अगर कोई मोहित हुआ तो वो थीं राधा।

अधिक पढ़ें : भगवान कृष्ण ने स्नान करती गोपियों के वस्त्र क्यों चुराए थे

धीरे-धीरे वह समय बीतता गया और एक समय आया जब श्रीकृष्ण को वृंदावन छोड़कर मथुरा जाना था।  इसलिए कृष्ण गोपियों को अकेला छोड़कर मथुरा चले गए थे । यह सब जानने के बाद सब दुखी थे। इधर कान्हा के घर में मां यशोदा साथ साथ कृष्ण की गोपियां भी रो रहीं थीं ।

मथुरा का राजा कंस ने कृष्ण को लेने के लिए एक रथ भेजा था। आते ही सभी ने उस रथ के चारों ओर घेरा बना लिया। यह सोचकर कि वे कृष्ण को जाने नहीं देंगे। फिर कृष्ण ने सबको मनाया फिर उन्होंने गोपियों को भी मना लिया। उसके बाद कृष्ण के बिना वृंदावन वीरान हो गया। हर कोई बस कृष्ण के चले जाने के गम में डूबा हुआ था।

अधिक पढ़ें : गोपियों ने हारिल की लकड़ी किसे कहा है

मुझे आशा है कि अब आपको पता चल गया होगा कि कृष्ण गोपियों को अकेला छोड़कर कहाँ गए थे।

यह भी पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here