सेकंड हैंड कार लोन कैसे लें और इसका फाइनेंस प्रक्रिया क्या है?

0

सेकंड-हैंड कार लोन विशेष रूप से उन व्यक्तियों के लिए डिज़ाइन किया गया है जो पुरानी या सेकंड-हैंड कार खरीदना चाहते हैं। ये ऋण बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों द्वारा प्रदान किए जाते हैं।

सेकंड हैंड कार लोन के लिए आवेदक को आय, निवास और रोजगार के प्रमाण के साथ-साथ खरीदी जा रही कार से संबंधित दस्तावेज प्रदान करना आवश्यक है।

सेकंड हैंड कार लोन प्राप्त करने के लिए अधिकांश उधारदाताओं को डाउन पेमेंट की आवश्यकता होगी, जो कार के मूल्य के 10% से 30% तक हो सकती है। ऋण देने वाली अधिकांश संस्थाएँ 1-7 वर्ष की अवधि के लिए अधिकतम 10 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान करती हैं।

सेकंड-हैंड कार लोन के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया नई कार लोन के समान ही है, लेकिन ब्याज दरों और लोन राशि के मामले में कुछ अंतर हो सकते हैं।

हम जानते हैं कि आपको सेकंड हैंड कार के लिए लोन की जरूरत है। सही जानकारी के अभाव में आपकी लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट हो सकती है अगर किसी तरह आपको लोन मिल जाता है तो आपको अधिक ब्याज देना पड़ सकता है।

इस लेख में हमने सेकंड हैंड कार फाइनेंस से जुड़ी वो सभी जानकारी साझा की है, जो आपको सेकंड हैंड कार लोन लेने से पहले जाननी चाहिए। ताकि आपको जल्द से जल्द और सबसे कम ब्याज दर पर लोन मिल सके, इससे आपका समय और पैसा दोनों बचेगा।

विषयसूची

सेकंड हैंड कार लोन क्या होता है?

सेकंड हैंड कार लोन एक सिक्योर्ड लोन होता है, क्योंकि जब किसी आवेदक को बैंक या कर्ज देने वाली संस्था से सेकंड हैंड कार फाइनेंस मिलता है, तब उसके बदले में आवेदक की गाड़ी गिरवी होती है।

फाइनेंस करवाने से आवेदक को हर महीने ईएमआई देनी होती है, लेकिन यदि आवेदक समय पर ईएमआई का भुगतान नहीं करता है या लोन नहीं चुकता है, तो ऋण संस्था आवेदक के कार को खींच कर उस वाहन की नीलामी कर देती है।

सबसे सस्ता कार लोन किस बैंक का है?

सेकंड हैंड कार लोन के लिए पात्रता क्या है?

पुरानी गाड़ी के लिए वेतनभोगी और स्वनियोजित व्यक्ति के लिए भिन्न होता है।

वेतनभोगी व्यक्ति जो सेकंड हैंड कार लोन के लिए पात्र हैं:

  • आवेदक की न्यूनतम आयु  21 वर्ष और अधिकतम 60 वर्ष होना चाहिए,  
  • कुछ मॉडलों के लिए न्यूनतम वार्षिक वेतन 240000 रुपये प्रति वर्ष और विशिष्ट मॉडलों के लिए 3,00000 रुपये प्रति वर्ष,
  • पिछले 3 महीने के बैंक विवरण,
  • आय के प्रमाण के लिए नवीनतम वेतन पर्ची और फॉर्म 16,
  • न्यूनतम 1 वर्ष का निरंतर रोजगार का प्रमाण,

स्व-व्यवसायी व्यक्ति जो सेकंड हैंड कार लोन के लिए पात्र हैं:

  • न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 65 वर्ष,
  • चयनित मॉडलों के लिए न्यूनतम वार्षिक व्यावसायिक आय 200000 रुपये प्रति वर्ष और अन्य के लिए 350000 रुपये प्रति वर्ष होना चाहिए।
  • पिछले 3 महीने के बैंक विवरण,
  • व्यवसाय कम से कम 2 वर्ष का पुराना होना चाहिए,
  • आय की गणना के साथ नवीनतम 2 वर्षों के आयकर रिटर्न,
  • पिछले 2 वर्षों के लिए ऑडिट रिपोर्ट,

सेकंड हैंड कार लोन की इंटरेस्ट रेट्स क्या है?

सेकंड-हैंड कार लोन की ब्याज दर ऋणदाता और आवेदक के क्रेडिट स्कोर के आधार पर भिन्न हो सकती है। आम तौर पर, नई कारों की तुलना में इस्तेमाल की गई कारों के लिए ब्याज दर अधिक होती है, और ऋण राशि भी कम हो सकती है।

प्रोसेसिंग फीस की बात करें तो हर बैंक की प्रोसेसिंग फीस अलग होती है। ऋण राशि का 0.25% से 0.50% तक या न्यूनतम 500 रु[रूपए से अधिकतम 15000 रूपए तक होती है।

ऋणदाता का नामब्याज दर (प्रतिवर्ष)
भारतीय स्टेट बैंक:8.80% से 9.50%
बैंक ऑफ बड़ौदा:8.35% से शुरू
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया:8.60% से 8.70%
एचडीएफसी बैंक:8.90% से शुरू
फेडरल बैंक:9.25%
ऐक्सिस बैंक:9.05% से 11.30%
केनरा बैंक:8.75% से 11.30%
आईडीबीआई बैंक:9.10% से 9.70%
पंजाब नेशनल बैंक:8.55% से 9.20%
सिंडिकेट बैंक:8.85% से 9.10%

पुरानी कार या सेकंड हैंड कार लोन के लिए कौन सी डाक्यूमेंट्स चाहिए?

जब आप कार ऋण के लिए आवेदन करते हैं, तो आपको दस्तावेजों जमा करना होगा ताकि बैंक जानकारी को वेरीफाई कर सके और आपके ऋण अनुरोध को स्वीकार कर सके। दस्तावेजों में मूल रूप से शामिल हैं:

वेतनभोगी पेशेवरों के लिए सेकंड हैंड कार लोन दस्तावेज़:

  • पहचान प्रमाण: आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र,
  • एड्रेस प्रूफ: आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, राशन कार्ड, उपयोगिता बिल,
  • आय का प्रमाण: वेतन पर्ची, फॉर्म 16, आयकर रिटर्न दस्तावेज,
  • पिछले 3 से 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट,
  • कार एडवांस चालान: इस दस्तावेज़ में आवेदक द्वारा चुनी गई कार के लिए विक्रेता द्वारा उद्धृत मूल्य शामिल है।

स्व-व्यवसायी व्यक्तियों के लिए सेकंड हैंड कार लोन दस्तावेज़:

  • पहचान प्रमाण: आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र,
  • एड्रेस प्रूफ: आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, राशन कार्ड, उपयोगिता बिल,
  • पिछले 3 से 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट,
  • व्यवसाय के स्वामित्व का प्रमाण: व्यवसाय का पता प्रमाण, मेंटेनेंस बिल, उपयोगिता बिल,
  • आय का प्रमाण: 2 साल तक का आयकर रिटर्न, ऑडिटेड बैलेंस शीट, लाभ और हानि का विवरण,
  • कार एडवांस चालान: इससे आपको कार की कीमत के हिसाब से लोन मंजूर होता है। ज्यादातर बैंक कार की कीमत का 95 फीसदी तक लोन के तौर पर देते हैं।

फाइनेंस की खींची हुई गाड़ी खरीदने से पहले क्या क्या सावधानियां बरतनी चाहिए?

सेकंड हैंड कार लोन के लिए आवेदन करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

सेकंड हैंड कार लोन के लिए आवेदन करते समय, यह सुनिश्चित करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना चाहिए कि आपको सबसे अच्छा सौदा मिले और भविष्य में किसी भी संभावित समस्या का सामना न करना पड़े।

  1. क्रेडिट स्कोर: एक अच्छा क्रेडिट स्कोर आपको अपने ऋण पर बेहतर ब्याज दर प्राप्त करने में मदद करता है। सेकंड हैंड कार लोन के लिए अप्लाई करने से पहले अपना क्रेडिट स्कोर चेक करें, अगर आपका क्रेडिट स्कोर खराब है तो उसे सुधारने के लिए कदम उठाएं
  2. डाउन पेमेंट: असेकंड हैंड कार खरीदते समय डाउन पेमेंट की आवश्यकता होती है, जो कार के मूल्य के 10% से 30% तक हो सकती है। इसलिए डाउन पेमेंट करने के लिए तैयार रहें।
  3. ऋण प्रस्ताव की समीक्षा करें: ऋण स्वीकार करने से पहले, ब्याज दर, ऋण राशि और पुनर्भुगतान अनुसूची सहित ऋण प्रस्ताव के नियमों और शर्तों की पूरी  जानकारी प्राप्त कर लें।
  4. ब्याज दरों और शर्तों की तुलना करें: सेकंड-हैंड कार लोन के लिए आवेदन करने से पहले विभिन्न ऋणदाताओं की ब्याज दरों और शर्तों की तुलना करें, ताकि आपको सबसे कम ब्याज दर पर लोन मिल।
  5. आय और रोजगार: ऋणदाता आपकी आय और रोजगार का प्रमाण देखना चाहेंगे। आय विवरण, टैक्स रिटर्न और रोजगार का प्रमाण प्रदान करने के लिए तैयार रहें।
  6. छिपी हुई खर्च: सेकंड हैंड कार फाइनेंस की कोई भी छिपी हुई खर्च आपको आश्चर्यचकित न कर दे, इसलिए किसी भी फीस या शुल्क सहित ऋण से जुड़ी सभी खर्चो को समझना जरुरी है।
  7. कार की स्थिति और माइलेज: कार की स्थिति और माइलेज की समीक्षा करना महत्वपूर्ण है। सेकंड हैंड कार खरीदने से पहले यह सुनिश्चित करें की आपको अपने पैसे का अच्छा मूल्य मिल रहा है।
  8. इन्शुरन्स: सेकंड हैंड कार खरीदने से पहले वाहन का बीमा या इन्शुरन्स वैधता की जांच कर लें।

सेकंड हैंड कार फाइनेंस कैसे होता है?

सेकंड हैंड कार की फाइनेंस ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीको से हो सकता है।

यदि आप ऑनलाइन सेकंड हैंड कार सेलर जैसे ट्रू वैल्यू , कारदेखो आदि से पुरानी कार खरीदना चाहते है, तो आपको जरुरी डाक्यूमेंट्स अपलोड करने के बाद ऑनलाइन आपको लोन संस्था मिल जायेंगे जो आपकी पुरानी कार की फाइनेंस प्रक्रिया पूरा कर देंगे।

ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको लोन संस्था से बात करनी होती है। इसके लिए आप जिस भी लोन संस्था सेकंड हैंड कार की फाइनेंस करना चाहते है, उस लोन देने वाली संस्था की ब्रांच में जाना होगा। बाकी की प्रक्रिया जरूरी दस्तावेज जमा करने के बाद पूरा हो जाएगा। 

पुरानी कार या सेकंड हैंड कार लोन के लिए आवेदन कैसे करें?

अधिकांश कार ऋण प्रदाताओं की उधारकर्ताओं के लिए विशिष्ट आवश्यकताएं होती हैं, जैसे न्यूनतम आय स्तर, रोजगार की स्थिति और क्रेडिट स्कोर। आवेदन करने से पहले यह जरूर जांचे की आप पात्रता मानदंड को पूरा करते हैं।

आवेदन आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीको से कर सकते है।

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए :

  1. ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको लोन संस्था की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. इसके बाद कार लोन सेक्शन में जाकर Apply Now पर क्लिक करना होगा।
  3. फिर आपके सामने एक फ्रॉम आएगा, जिसे आपको सही से भरना है और सभी आय का प्रमाण, आईडी और एड्रेस प्रूफ और बैंक स्टेटमेंट आदि जरुरी दस्तावेजों को अपलोड करना है।
  4. इसके बाद सबमिट करके लोन आवेदन को पूरा करना है, बस अभी आपका लोन आवेदन पूरा हो गया है। 

ऑफलाइन आवेदन करने के लिए :   

  1. इसके लिए आपको लोन संस्था की ब्रांच में विजिट करना होगा।
  2. बैंक मैनेजर से बात करनी होगी।
  3. लोन आवेदन फॉर्म लेकर सही से भरना होगा।
  4. सभी जरुरी दस्तावेजों को लोन आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करना होगा।
  5. अभी आपको अटैच दस्तावेजों के साथ लोन आवेदन फॉर्म को लोन संस्था में जमा कर देना है।

ऋणदाता आपके आवेदन और क्रेडिट इतिहास की रिव्यु करेगा, साथ में आपकी संपत्ति और आय प्रमाण का जांच कर सकता है। एक बार ऋण अप्रूव हो जाने के बाद, अपनी पसंद की कार खरीदने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं।

सही समय पर ऋण चुकाएं: ध्यान रखें कि आपको मासिक किस्तों में ब्याज और किसी भी लागू शुल्क के साथ ऋण चुकाना होगा, अन्यथा आपकी कार को ऋण देने वाली संस्था जब्त कर सकती है।

Emi नहीं चुकाने पर क्या होता है? 

अंतिम शब्द

अंत में, सेकंड हैंड कार लोन उन लोगों के लिए एक बढ़िया विकल्प हो सकता है जो पुरानी कार खरीदना चाहते हैं। यह आपको कार की खर्चो के एक बड़े हिस्से को फाइनेंस करने की अनुमति देता है। यह भी पढ़े: लोन न चुकाने पर फाइनेंस कंपनी के अधिकार क्या है?

पुरानी कार या सेकंड हैंड कार खरीदारी को अंतिम चरण से पहले कार के इतिहास, स्थिति और दस्तावेज़ीकरण की जांच करना हमेशा बुद्धिमानी है। 

FAQ – सवाल जवाब

Q. क्या पुरानी कार पर लोन मिल सकता है?            

हां, पुरानी कार पर लोन मिलना संभव है, लेकिन नई कार के लिए लोन लेने से ज्यादा मुश्किल यह हो सकता है। ऋणदाता आमतौर पर नई कारों के लिए ऋण देने के लिए अधिक इच्छुक होते हैं क्योंकि उन्हें अधिक मूल्यवान माना जाता है और उनका जीवनकाल लंबा होता है।

Q. कार लोन कितने प्रतिशत पर मिलता है?

कार लोन कम-से-कम 8.5% प्रति वर्ष ब्याज दरों के साथ मिल जाता है।

Q. पुरानी गाड़ी खरीदने के लिए कौन सा ऐप है?

पुरानी गाड़ी खरीदने के लिए बहुत सारे ऐप्स प्ले स्टोर पर मौजूद है, इनमे से 6 सर्वश्रेष्ठ ऐप्स है Car 24, CarDekho, Spinny, OLX, Facebook Marketplace और TrueValue.

यह भी पढ़े:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here