श्रमिक कार्ड लोन योजना Rajasthan 2022 | Shramik Card Se Loan Kaise Milega

श्रमिक कार्ड लोन योजना Rajasthan 2022 : भारत में श्रम और रोजगार मंत्रालय से जुड़ के राजस्थान सरकार ने श्रमिकों की भलाई और कल्याण के लिए श्रमिक कार्ड लोन योजना (LDMS) शुरू किया है। श्रमिक कार्ड से पंजीकृत कार्यकर्ता को एक यूनिक आइडेंटिफिकेशन नंबर कार्ड दिया जाएगा।

श्रमिक कार्ड लोन योजना Rajasthan 2022
श्रमिक कार्ड लोन योजना Rajasthan 2022

भारत में लगभग 30 करोड़ श्रमिक ऐसे हैं जो श्रमिक कार्ड के साथ पंजीकरण करना चाहते हैं और 80% से अधिक पहले ही पंजीकृत हो चुके हैं।

हमें पता है की आप आपको श्रमिक कार्ड के लोन के बारे में जानना चाहते है। हमने इस पोस्ट पर Rajasthan के श्रमिक कार्ड लोन योजना के अलाबा श्रमिक कार्ड पर लोन कितना मिलता है, Shramik Card Se Loan Kaise Milega इन सब के बारे में डिटेल्स में बताया है, इसलिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

श्रमिक कार्ड लोन योजना Rajasthan 2022

इस योजनाओं के लाभ उठाने के लिए सबसे पहले आपको श्रमिक कार्ड बनवाना होगा। श्रमिक कार्ड को आप किसी भी CSC सेंटर या घर बैठे इंटरनेट की मदद से आसानी से बना सकते है।

इस श्रमिक कार्ड को बनवाने के बाद आपको इस योजनाओं के अंतर्गत सभी सुभिधाये मिलेंगी। सरकार ने सभी मजदूरो को आर्थिक सहायता देने के लिए इस श्रमिक कार्ड योजना को बनाया है, जिसका लाभ सभी श्रमिकों को उठाना चाहिए। 

राजस्थान श्रमिक कार्ड लोन योजना क्या है?

लेबर कार्ड (ई-श्रमिक कार्ड) भारत सरकार के श्रम और रोजगार मंत्रालय से मिलकर राजस्थान सरकार द्वारा संचालित एक योजना है। इसके लिए राजस्थान सरकार ने एक पोर्टल (Rajasthan Labor Department) भी तैयार किया है जो एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। श्रमिक इस पोर्टल पर जाकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं। इसमें रजिस्ट्रेशन करने से आपको नवीनतम योजनाओं के बारे में सभी जानकारी मिल जाएगी। इसके साथ ही आपको भारत सरकार की ओर से सरकारी सहायता भी मिलेगी।

योजना का नाममजदुर कार्ड (Ldms Yojana)
लाभमजदूरो का आर्थिक और सामाजिक विकास
योजना का क्षेत्रपूरे देश में लागू है
योजना में शामिलअसंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदुर (श्रमिक)
केन्द्रीय ऑफिसियल वेबसाइटhttps://labour.gov.in/

यह भी पढ़ें : आधार कार्ड पर 5 मिनट में लोन कैसे लें

श्रमिक कार्ड से क्या क्या लाभ है?

श्रमिक कार्ड से मजदूरों व श्रमिक वर्ग के लोगों को सरकार द्वारा बहुत सारी लाभ प्रदान होता है। श्रमिक कार्ड से कई योजनाएं जुड़ी है, जानने के लिए नीचे हमने बिस्तार से बताया है :

  1. शुभ शक्ति योजना के तहत श्रमिक कार्ड धारक की दो बेटियों की शादी के लिए 55-55 हजार रुपये दिए जाते हैं।
  2. सुलभ श्रमिक आवास योजना के तहत घर बनाने के लिए 1.50 लाख रुपये की सहायता दी जाती है।
  3. शिक्षा कौशल विकास योजना के तहत श्रमिक कार्ड धारकों के दो बच्चों को छठी कक्षा से लेकर डिग्री डिप्लोमा तक की छात्रवृत्ति भी दी जाती है।

इस कार्ड को बनवाने के बाद श्रमिक कार्ड से संबंधित योजनाओं जैसे आवास योजना, पुत्री विवाह योजना, छात्रवृत्ति योजना, मातृत्व सहायता योजना, टूलकिट योजना आदि के लिए आवेदन कर सकते हैं।

कौन कौन राजस्थान श्रमिक कार्ड योजना आवेदन कर सकते है ?

जो लोग निचली श्रेणी के अंतर्गत आते हैं यानि जो असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं वे LDMS राजस्थान कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। असंगठित क्षेत्र में आने वाले लोगों की सूची हमने नीचे दी है:

  • बढ़ई
  • राज मिस्त्री हेल्पर
  • इलेक्ट्रिशियन वर्कर
  • सीमेंट घोल मिक्सर
  • भवन निर्माण कारीगर
  • लोहार
  • अकुशल कारीगर
  • रोलर चालक
  • टाइल्स मिस्त्री
  • कंक्रीट मिक्सर
  • गेट ग्रिल वेल्डिंग कारीगर
  • मनरेगा में काम करने वाले मजदूर
  • केन्द्रित और लोहे का बांधने का काम करने वाले श्रमिक
  • सड़क पुल आदि बनाने वाले कारीगर और श्रमिक

श्रमिक कार्ड से कितने पैसे मिलते है ?

अगर आपने श्रमिक कार्ड करवाया है तो में आपको बताना चाहूंगा की, शुभ शक्ति योजना के तहत मजदूर की दो बेटियों की शादी के लिए मजदूर को 55000-55000 रुपये दिए जाते हैं।

शिक्षा कौशल विकास योजना के तहत श्रमिक के दो बच्चे छठी कक्षा से लेकर डिग्री डिप्लोमा तक की छात्रवृत्ति भी दी जाती है। छात्रवृत्ति योजना के तहत सालाना 8000 से 35000 रुपये मिलते हैं।    

नीचे हमें श्रमिक कार्ड से जुड़ी सभी योजनाओं के बारे में बताया है।

राजस्थान श्रमिक कार्ड के लिए पात्रता

  • मजदूर को राजस्थान का निवासी होना चाहिए।
  • मजदूर किसी न किसी पंजीकृत ठेकेदार के साथ काम कर करता होना चाहिए।
  • श्रमिक के परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम होनी चाहिए।
  • लेबर कार्ड ऊपर दिए गए सभी वर्ग के मजदूरों के द्वारा ही बनवाया जा सकता है।

राजस्थान श्रमिक कार्ड लोन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

इस श्रमिक कार्ड को बनवाने के लिए क्या क्या दस्तावेज जरुरी है, इसे जानने के लिए नीचे देखे :

  • जन आधार कार्ड
  • आधार कार्ड
  • बैंक पास बुक
  • पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • जॉब कार्ड
  • आवेदन फॉर्म
  • दो पासपोर्ट साइज़ फोटो

श्रमिक कार्ड से लाभ मिलने वाली सरकारी योजनाओ की सूची

श्रमिक कार्ड से श्रमिकों को कई योजनाओं का लाभ मिलता है, यहां हम आपको कुछ प्रमुख योजनाओं के नाम बता रहे हैं :

  • शुभ शक्ति योजना
  • निर्माण श्रमिक शिक्षा व कौशल विकास योजना
  • निर्माण श्रमिक सुलभ आवास योजना
  • निर्माण श्रमिक जीवन व भविष्य सुरक्षा योजना
  • प्रसूति सहायता योजना
  • सिलिकोसिस पीड़ित हिताधिकारियों हेतु सहायता योजना
  • निर्माण श्रमिक औजार / टूलकिट सहायता योजना
  • दुर्घटना में मृत्यु या घायल होने की अवस्था में सहायता योजना

यह भी पढ़ें : 50000 का लोन कैसे मिलता है

राजस्थान श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें ?

अगर आप एक मजदूर है और श्रमिक कार्ड के सभी पात्रता को पूरा करते है, तो राजस्थान श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है।

  • मजदूर कार्ड बनाने के लिए सबसे पहले आपको  श्रमिक कार्ड के आवेदन पत्र को डाउनलोड करना होगा। डाउनलोड करे
  • आपको फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारियों भरना है।
  • आप स्वयं आवेदन करे या आप अपने नजदीकी ई-मित्र से भी आवेदन कर सकते हैं।
  • खुद ऑनलाइन रजिस्टर करने के लिए आपको एक SSO ID बनानी होगी।
  • आप SSO पोर्टल के जरिए खुद भी आवेदन कर सकते है।
  • आपको SSO पर LDMS सर्च करना होगा, आपके सामने एक नयी पेज खुल जाएगी।
  • उस पेज पर आपको BCOW रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर क्लिक करना है।
  • अभी आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा। जिसमें रेड स्टार होते है आपको वह सारी जानकारी भरनी है।
  • आपको अपने सभी जरुरी डाक्यूमेंट्स अपलोड करने होंगे और सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको सामने एक पेज ओपन होगा, जिससे लिखा होगा कि आपका आवेदन वैध है या नहीं।
  • सरकारी अधिकारी के पास आवेदन को स्वीकार या अस्वीकार करने के लिए 90 दिन का समय होता है।
  • आम तौर पर आवेदनों को खारिज नहीं किया जाता है, आवेदन में कमी को ठीक किया जाता है और यदि किसी दस्तावेज की आवश्यकता होती है तो उसे फिर से मांगा जाता है, जिसे आप बाद में अपलोड कर सकते हैं।
  • आवेदन स्वीकार होने पर आपको 90 रुपये का भुगतान करना होगा।
  • जिसके बाद आपको श्रमिक कार्ड मिल जायेगा।
  • अभी आप उस श्रमिक कार्ड को प्रिंट कर सकते हैं।

राजस्थान श्रमिक कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें

अगर आपका लेबर कार्ड खो गया है, या आपके पास लेबर कार्ड से जुड़ा कोई सबूत नहीं है तो आप लेबर कार्ड लिस्ट में नाम देखकर दोबारा लेबर कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन श्रमिक कार्ड को दोबारा डाउनलोड करने के लिए श्रमिक कार्ड नंबर की जरूरत होती है। इस नंबर से आप श्रमिक कार्ड को आसानी से डाउनलोड कर सकते है या श्रमिक कार्ड लिस्ट में चेक कर सकते है।

स्वयं के श्रमिक कार्ड का विवरण देखें राजस्थान

  • श्रमिक कार्ड डाउनलोड करने के लिए आपको SSO या ई-मित्र का मदद लेनी होगी।
  • श्रमिक कार्ड लिस्ट नाम देखने के लिए आपको पहले https://jansoochna.rajasthan.gov.in इस लिंक पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट के होम पेज खुल जाएगी। 
  • होम पेज पर आपको एक सर्विसेज का ऑप्शन दिखाई देगा, सर्विसेज ऑप्शन पर क्लिक करने से एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आप राजस्थान की सभी योजनाओं को देख सकते है। इन सभी सभी योजनाओं में से आपको “श्रमिक कार्ड धारक” विकल्प को क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने फिर से एक नया पेज खुल जाएगा। अभी आपको  “स्वयं के श्रमिक कार्ड का विवरण देखे”पर क्लिक काढ़ा होगा।
  • अभी फिर से और एक नया पेज खुल जाएगा।
  • अब फिर से एक नया पेज खुलेगा। अभी आपके सामने पेज पर रजिस्ट्रेशन नंबर, आधार नंबर एसार डी आर बॉक्स दिखाई देगा।
  • मांगी गयी सभी चीज़े देने के बाद  नीचे “खोजे” बटन पर क्लिक करना होगा। 
  • इसके बाद आपके सामने श्रमिक कार्ड की लिस्ट आ जाएगी।

Rajasthan Shramik Card शिकायत Helpline Number

कई बार देखा गया है कि श्रमिक कार्ड बनवाने में दिक्कत आती है। इस समस्या के चलते लोग यही सोचते रहते हैं कि शायद मेरा लेबर कार्ड नहीं बनेगा। लेकिन ऐसा नहीं है, आप हेल्पलाइन नंबर पर बात कर सकते हैं और अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं।

  • लेबर कार्ड शिकायत नंबर – 18001806127
  • Email: labour[dot]support[at]rajasthan[dot]gov[dot]in
  • निर्माण श्रमिक सेवाओं/योजनाओं के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए कृपया संपर्क करें : 0141-2222961/0141-2222861/0141-2220334
  • टोल फ्री नंबर : 1800-1800-999

यह भी पढ़ें :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here