मजदूर आदमी लोन कैसे ले?

0

पैसे की जरूरत हर किसी को होती है फिर चाहे वह मजदूरी करने वाला व्यक्ति हो या पैसे वाला व्यक्ति। पैसों वालों को तो आसानी से लोन मिल जाता है, लेकिन लोन मिलने की दिक्कत गरीब, आम आदमी और मजदुर लोगो को होती है। ऐसी स्थिति में एक मजदूर क्या करें, जब उनके ऋण आवेदन सभी ऋण देने वाले संस्थानों में खारिज कर दिए जाते हैं।

नए काम धंधा शुरू करने के लिए और पैसों की इस जरूरतों को मिटाने के लिए मजदूर व्यक्ति उच्च ब्याज दर पर लोन ले लेते है। लेकिन उच्च ब्याज दर होने के कारण अधिकतर मजदूर आदमी लोन को चुकाने में विफल हो जाते है। लोन चुकाने में असफल होने के कारण मजदूर आदमी को पुलिस या अदालत का चक्कर भी काटना पड़ सकता है।

यदि आप एक मजदूर है और यदि आपको लोन की आवश्यकता है, तो अभी आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। क्यूंकि भारत सरकार के द्वारा ऐसे बहुत सी योजनाएं चलाई जा रही है जिससे एक मजदूर आदमी आसानी से लोन प्राप्त कर सकते है।  

विषयसूची

मजदूर आदमी लोन कैसे ले?

इस लेख में हम ऐसी योजनाओं के नाम बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से आवेदक बिना कोई सिक्योरिटी दिए 10,000 रुपये लोन से 50,000 रुपये तक का लोन प्राप्त कर सकता है। दोस्तों, नए बिजनेस को शुरू करने के लिए लोन की बात करे तो, सरकार द्वारा चलाई जाने वाली 2 ऐसे योजनाएं है, जिससे मजदूर आदमी सरल तरीकों से लोन प्राप्त कर सकता है और उन योजनाओं के नाम है :  

  1. प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना
  2. प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना

इन दोनों योजनाओं के मदद से आवेदक व्यक्ति किसी भी बैंक के माध्यम से ऋण के लिए आवेदन कर सकता है और ऋण प्राप्त कर सकता है। यदि आपको इसके बारे में अधिक जानना है, तो इस लेख को विस्तार से पढ़ते रहे :

इमरजेंसी लोन कैसे मिलेगा?

1. प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना से मजदूर आदमी लोन कैसे ले?

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) भारत में एक सरकारी लोन योजना है जो व्यवसाय शुरू करने और पुराने व्यवसाय को विस्तार करने के लिए नए छोटे व्यवसायों और उद्यमियों को ऋण प्रदान करती है।

ये ऋण, जिसे “मुद्रा ऋण” के रूप में जाना जाता है। मुद्रा लोन का उद्देश्य व्यक्तियों को एक छोटा व्यवसाय शुरू करने या उसका विस्तार करने में मदद करना है, और ये बैंकों, वित्तीय संस्थानों और माइक्रोफाइनेंस संगठनों के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता हैं।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना में लोन के प्रकार

मुद्रा लोन को 3 भागों में बांटा गया है :

  • शिशु : इस योजना के तहत मजदूर आदमी व्यवसाय शुरू करने चरण में व्यवसायों के लिए 50,000 रुपये तक का ऋण प्राप्त कर सकते है,
  • किशोर : इस योजना के तहत विस्तार या आधुनिकीकरण करने वाले व्यवसायों के लिए 50,000 रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक का ऋण प्राप्त किया जा सकता है।
  • तरुण : इस योजना के तहत, जो व्यवसाय अच्छी तरह से स्थापित हैं और आगे बढ़ना चाहते हैं, ऐसे व्यवसायों के लिए 5 लाख रुपये से 10 लाख रुपये तक का ऋण लिया जा सकता है।

मुद्रा लोन प्राप्त करने के लिए आपको किसी भी तरह की संपत्ति गिरवी रखने की जरुरत नहीं है, यह लोन बिना किसी संपार्श्विक के साथ प्राप्त किया जा सकता है।

मुद्रा लोन के लिए एक मजदूर आदमी का योग्यता क्या है?

मुद्रा लोन के लिए पात्र होने के लिए, आपको निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करना होगा:

  • आवेदक को भारतीय नागरिक होना चाहिए,
  • आवेदक की उम्र 18 वर्ष से अधिक आयु का होना चाहिए,
  • आवेदक को एक गैर-कृषि, गैर-पेशेवर व्यावसायिक गतिविधि में संलग्न होना चाहिए,
  • आवेदक के पास एक व्यवहार्य व्यवसाय योजना होनी चाहिए,
  • आवेदक को ऋण चुकाने में सक्षम होना चाहिए।
  • लोन लेने के लिए प्रोजेक्ट रिपोर्ट देनी होगी।
  • यदि आवेदक ने पूर्व में किसी अन्य वित्तीय संस्थान से ऋण लिया था और उस ऋण को समय पर नहीं चुकाया तो ऐसी स्थिति में आवेदक को ऋण नहीं मिल पायेगा।

मुद्रा लोन न चुकाने पर क्या होगा?

एक मजदूर द्वारा मुद्रा ऋण के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं?

मुद्रा लोन के लिए आवेदन करने के लिए, आपको निम्नलिखित दस्तावेज देने होंगे:

  • भरा हुआ आवेदन पत्र
  • पहचान का प्रमाण: यह आपके पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, या सरकार द्वारा जारी किसी अन्य आईडी प्रमाण की एक प्रति हो सकती है।
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • पिछले 3 महीने का बैंक स्टेटमेंट

मुद्रा लोन के लिए आवेदन करने के लिए वास्तव में किन दस्तावेजों की आवश्यकता है, यह पता लगाने के लिए ऋणदाता से जांच करना हमेशा एक अच्छा विचार है।

मुद्रा लोन की विशेषताएं क्या क्या है?

  • इस योजना के तहत मजदूर आदमी वित्तीय सहायता प्राप्त कर सकता है।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए जमानत या सुरक्षा की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों के मजदूर इस लोन का लाभ उठा सकता है।
  • जो भी व्यक्ति इस लोन को लेता है, उस लोन की क्रेडिट गारंटी सरकार लेती है। इसलिए लोन चुकाने में विफल रहने की स्थिति में बकाया लोन की प्रतिपूर्ति सरकार द्वारा की जाएगी।
  • खाद्य विक्रेता, दुकानदार और अन्य छोटे व्यवसाय के मालिक इस योजना का अधिक से अधिक लाभ उठा सकते हैं।
  • यह लोन मजदूर आदमी को सालाना 7.30% की ब्याज दर के साथ मिल सकता है।
  • महिलाओं को इस लोन लेने पर अतिरिक्त ब्याज दरों में छूट मिलती है।
  • इस लोन को चुकाने के लिए मजदूर आदमी को अधिकतम 7 साल का समय मिल जाता है।
  • उधार ली गई धनराशि का उपयोग सिर्फ और सिर्फ व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है।

मजदूर आदमी मुद्रा लोन के लिए आवेदन कैसे करें?

आवेदक भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा निर्देशित पात्र बैंक या एनबीएफसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर नीचे दिए गए चरणों का पालन करके मुद्रा ऋण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं:

५०००० से १०००००० तक का लोन इ मुद्रा लोन ऑनलाइन अप्लाई SBI

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए :

  1. सबसे पहले बैंक की आधिकारिक वेबसाइट से ऋण आवेदन पत्र डाउनलोड करें, डाउनलोड करने के लिए, जिस बैंक में आप आवेदन करना चाहते हैं उसकी आधिकारिक वेबसाइट की लोन सेक्शन में जाएं, जहां आपको लोन की कैटेगरी मिल जाएगी। लोन केटेगरी में आपको मुद्रा लोन की ऑप्शन दिखाई देगा।
  2. अभी आप आवश्यक विवरण के साथ आवेदन पत्र भरें और आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें।
  3. इसके बाद आधिकारिक बैंक की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन पत्र अपलोड  करें, जिसके बाद आपको रेफरेंस आईडी या नंबर प्राप्त होगा। रेफरेंस आईडी नंबर को संभाल कर रखें ताकि आप बाद में इसका इस्तेमाल कर सकें।
  4. ऋण औपचारिकताओं को आगे बढ़ाने के लिए बैंक का प्रतिनिधि आपसे संपर्क करेगा।
  5. ऋण आवेदन पत्र और संलग्न दस्तावेजों को बैंक संसाधित और सत्यापित करेगा। यदि आप इस लोन के लिए पात्र होते है, तो आपका लोन आवेदन स्वीकृत की जाएगी और बैंक द्वारा आपके बैंक खाते में लोन की राशि वितरित की जाएगी।

ऑफलाइन आवेदन करने के लिए :

मुद्रा ऋण के लिए ऑफ़लाइन आवेदन करने के लिए, आप इन चरणों का पालन कर सकते हैं:

  • ऋणदाता चुनें : आप इस योजना में भाग लेने वाला किसी भी बैंक या वित्तीय संस्थान के माध्यम से मुद्रा ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • ब्याज दरों की तुलना : आप विभिन्न उधारदाताओं द्वारा दी जाने वाली ब्याज दरों और शर्तों की तुलना कर सकते हैं ताकि आपको कम ब्याज दरों पर लोन मिल सके। 
  • दस्तावेज़ इकट्ठा करें : मुद्रा लोन के लिए आवेदन करने के लिए आपको कुछ दस्तावेज़ देने होंगे। इनमें पहचान का प्रमाण, व्यवसाय के स्वामित्व का प्रमाण, वित्तीय विवरण और व्यवसाय योजना शामिल हैं। ब्रांच मैनेजर से बात करके इसका पता लगाए और दस्तावेज़ इकट्ठा करें।
  • आवेदन पत्र भरें : आवेदन पत्र ऑफलाइन भर कर, फॉर्म जमा करने के लिए व्यक्तिगत रूप से ऋणदाता की शाखा में जाये। फॉर्म में आपको अपने व्यवसाय, आपके द्वारा मांगी जा रही ऋण राशि और आपकी वित्तीय स्थिति के बारे में आदि विवरण प्रदान करने की आवश्यकता होगी।
  • दस्तावेज जमा करें: एक बार आवेदन पत्र भरने के बाद, आपको ऋणदाता को आवश्यक दस्तावेज जमा करने होंगे।
  • ऋणदाता के निर्णय की प्रतीक्षा करें : ऋणदाता आपके आवेदन की समीक्षा करेगा और आपके ऋण आवेदन को स्वीकार या अस्वीकार करने का निर्णय लेने से पहले आपकी संपत्ति, व्यवसाय योजना और अन्य कारकों पर विचार करेगा। यदि आपका आवेदन स्वीकृत हो जाता है, तो ऋणदाता आपके खाते में ऋण राशि का वितरित कर देगा।

अभी तक हमने सिर्फ एक मजदूर मुद्रा लोन कैसे प्राप्त कर सकता है इसके बारे में बताया है, अभी हम भारत सरकार की दूसरी योजना प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के बारे में बताएँगे। यदि आप एक मजदूर है और लोन लेने की सोच रहे है, तो इस लेख को अंत तक पढ़े। 

2. प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से मजदूर आदमी लोन कैसे ले?

पीएम स्वनिधि (प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर की आत्मनिर्भर निधि) भारत में स्ट्रीट वेंडर्स को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए 2020 में शुरू की गई एक सरकारी योजना है। यह योजना सभी पंजीकृत स्ट्रीट वेंडर्स के लिए खुली है, जिन्हें स्ट्रीट वेंडर्स एक्ट 2014 के तहत वेंडिंग सर्टिफिकेट जारी किया गया है।

इस योजना के तहत, स्ट्रीट वेंडर 7% प्रति वर्ष की रियायती ब्याज दर पर 10,000 रुपये से लेकर 50,000 रुपये तक तक का कार्यशील पूंजी ऋण प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन पहले आपको केवल 10,000 रुपये का लोन मिलेगा। अगर आप समय पर कर्ज चुकाते हैं तो आपको और कर्ज मिल सकता है। उधारकर्ता को एक वर्ष के भीतर मासिक किश्तों में लिए गए ऋण को चुकाना होगा।

इस लोन को लेने के लिए किसी तरह की सिक्योरिटी देने की जरूरत नहीं है। इसलिए एक मजदूर आदमी आसानी से इस लोन को प्राप्त कर सकता है।

श्रमिक कार्ड पर कितना और कैसे लोन मिलता है?

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना का लाभ किसे मिलेगा?

इस योजना का लक्ष्य 50 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को लाभान्वित करना है। इनमें सब्जियां, फल, रेडी-टू-ईट स्ट्रीट फूड, चाय, पकौड़े, ब्रेड, अंडे, कपड़ा, परिधान, कारीगर उत्पाद, किताबें/स्टेशनरी आदि शामिल हैं और सेवाओं में नाई की दुकानें, मोची, पान की दुकानें, कपड़े धोने की सेवाएं आदि शामिल हैं।

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना का उद्देश्य क्या है?

इस योजना का उद्देश्य स्ट्रीट वेंडर्स को COVID-19 महामारी के बाद अपने व्यवसायों को फिर से शुरू करने और आत्मनिर्भर बनने में मदद करने के लिए किफायती ऋण प्रदान करना है।

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना का आवेदन कैसे करें?

आवेदन करने से पहले आवेदक को यह देख लेना चाहिए कि आवेदक का मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक है या नहीं। अगर लिंक नहीं है तो सबसे पहले आवेदक को अपना मोबाइल नंबर आधार से लिंक कराना होगा। इसके साथ ही आवेदक के पास आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए, जैसे: आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड आदि।

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से 10000 रुपये प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें:

  1. आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा,
  2. इसके बाद होम पेज पर सबसे नीचे आपको “Planning to Apply for Loan” का विकल्प दिखेगा, जिस पर आपको “View More” के विकल्प पर क्लिक करना होगा,
  3. अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपको इस लोन से जुड़ी जानकारी मिल जाएगी,
  4. इस पेज में सबसे ऊपर आपको “View/ Download form” का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर क्लिक करके आपको आवेदन पत्र डाउनलोड करना है।
  5. इसके बाद आपको आवेदन पत्र का प्रिंट आउट निकालना है और सही से आवेदन पत्र को भरना है।
  6. आवेदन पत्र के साथ आवश्यक दस्तावेज को को अटैच करना होगा।
  7. इसके बाद आपको उस बैंक में जाना होगा, जो इस योजना के तहत लोन प्रदान करता है, और आवेदन पत्र को जमा कर देना है।  
  8. सब कुछ जाँचने के बाद, बैंक अधिकारी आवेदन को स्वीकृत करेगा और यदि सब कुछ ठीक रहा तो ऋण राशि का वितरित करेगा।

२ मिनट में लोन चाहिए कैसे मिलेगा?

अंत में :

साथियों, पहले मजदूर को कर्जा मिलना तो दूर की बात थी, कर्ज के बारे में सोचना भी बड़ी बात हुआ करती थी। लेकिन भारत सरकार की ऐसी ही कुछ योजनाओं से गरीब, आम आदमी या मजदूर को कर्ज मिलना संभव हुआ है।

अब एक मजदूर आदमी भी लोन लेकर एक नया व्यवसाय शुरू करके अपने पैरों पर खड़ा हो सकता है। हम चाहते हैं कि भारत सरकार ऐसी योजनाएं लाती रहे, जिससे गरीब लोगों को मदद मिल सके।

यह भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here