बिहार का पुराना नाम क्या था। Bihar Ka Purana Naam Kya Hai

बिहार का पुराना नाम क्या था : बिहार का पुराना नाम खोजने के लिए हमें अतीत में जाना होगा। तो चलिए आपको अतीत में ले चलते है और जानते है की बिहार का पुराना नाम क्या था।

बिहार बौद्ध धर्म के लिए सबसे महत्वपूर्ण भूमि है। बौद्ध ग्रंथों में “विहार” शब्द का अत्यधिक प्रयोग किया गया है। यह आमतौर पर कहा जाता है कि भगवान बुद्ध विहार करते थे। तो, यह शब्द लोकप्रिय हो गया और जिस स्थान पर बौद्ध भिक्षु रहते थे, उसे विहार कहा जाता है।

1947 से पहले, इसे “बिहार” कहा जाता था । अब, चलो एक छलांग लेते हैं और प्राचीन भारत में आते हैं।

बिहार का पुराना नाम क्या था। Bihar Ka Purana Naam Kya Hai

यह साम्राज्यों का समय है। बिहार बहुत बड़ा और मजबूत और यहां तक ​​कि जटिल भी है। यदि आप बिहार राज्य का वर्तमान नक्शा सोच रहे हैं तो आप समझ नहीं सकते। बिहार में मगध और गुप्त जैसे कई समृद्ध राज्य थे, जिनकी राजधानी पाटलिपुत्र (वर्तमान पटना) थी।

आइए देखते हैं बिहार की समयरेखा :

  • नवपाषाण युग (2500–1345 ईसा पूर्व) : चिरलैंड (Chirland), यह एक गाँव है जो सारण जिले में गंगा नदी के उत्तरी तट पर स्थित है ।
  • वैदिक काल(११००-५०० ईसा पूर्व) : मिथिला (Mithila), बाद के वैदिक काल में जनक के शासन में बिहार का क्षेत्र भारतीय शक्ति का केंद्र बन गया।
  • महाजनपद (५००-३०० ईसा पूर्व) : वज्जि और अंग प्रदेश (Vajji and Anga pradesh), वैशाली लिच्छवी की राजधानी और दुनिया का पहला गणतंत्र बन गया ।
  • मगध (450BCE-500AD) : मगध (Magadh), नंदा, मौर्य, अशोक, सगुण और गुप्त जैसे कई प्रसिद्ध शासकों और राजवंशों द्वारा शासित था।
  • मगध-मिथिला (600-1100AD) : इस पर कई शासकों / राजवंशों का शासन था, जैसे पाल, सेना, हर्षवर्धन और कर्नाटक।
  • इस्लामी आक्रमणकारियों (1200-1600AD) : इन लुटेरों ने सचमुच वर्तमान बिहार को बर्बाद कर दिया। इस काल से पहले बिहार का स्वर्ण युग था। बख्तियार खिलजी की सेना ने नालंदा में बौद्ध विश्वविद्यालयों को नष्ट किया। विक्रमशिला और मगध क्षेत्र में अफगान-मुस्लिम शासन की शुरुआत हो गयी । उन्होंने मगध के विभिन्न हिस्सों में बौद्धों का नरसंहार किया। मगध (लगभग 1250 में) और मिथिला (लगभग 1325 में) क्षेत्र दिल्ली सुलतान के शासन में आते थे।
  • मुगल शासन (1550-1857AD) : “बिहार” नामक एक प्रांत मुगल साम्राज्य के अधीन बना और मुगलो ने शासन किया।
  • ईस्ट इंडिया कंपनी 1757-1857 : ईस्ट इंडिया कंपनी ने 1757-1857 तक बंगाल प्रेसीडेंसी के तहत बिहार पर शासन किया।
  • 1912 : बिहार और उड़ीसा प्रांत बंगाल से अलग हो गया। आज का बिहार मगध, मिथिला और भोजपुर क्षेत्र से मिलकर बना है।

उपरोक्त लेख को पढ़कर आपके मन में उठ रहे प्रश्न का उत्तर अवश्य ही मिल गया होगा। बिहार का पुराना नाम क्या था ? इस प्रश्न का उत्तर एक पंक्ति में देना बहुत कठिन है, फिर भी अधिकांश भारतीय और इतिहासकार बिहार का पुराना नाम मगध ही बताते हैं।

यह भी पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here