प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना 2022 से लोन कैसे ले?

0

प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना 2022 : भारत देश में बढ़ रही बेरोजगारी को देखते हुए भारत सरकार ने कई ऐसी योजनाएं चला रही है, जिससे लोग नया बिजनेस शुरू करने के लिए लोन ले सकते है।

ऐसे तो प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना के नाम से भारत सरकार की किसी भी योजना नहीं है। लेकिन ऐसे पांच योजनाएं है जिससे आम आदमी बिना कुछ गारंटी के बिजनेस लोन ले सकते है।

अगर आप जानना चाहते है की भारत सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली वो पांच योजनाएं कौन से है, तो इस लेख को पूरा पढ़े। इस लेख को पढ़ने के बाद आपको  पता चल जायेगा की बिज़नेस के लिए कैसे लोन ले सकते है और लोन लेने के लिए कौन से डाक्यूमेंट्स की जरुरत पढ़ती है।

प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना
प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना

विषयसूची

प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना 2022 से लोन कैसे ले ?

जैसे की पहले हमने आपको बताया है की प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना 2022 नाम पर कोई भी योजना नहीं है। तो अभी हम आपको बताने जा रहे है उन पांचो योजनाएं के नाम जिसको भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही है।

  1. MSME लोन 59 मिनट में
  2. प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY)
  3. सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए क्रेडिट गारंटी फंड योजना (CGFMSE)
  4. राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम (NSIC)

प्रधानमंत्री गरीब लोन योजना से लोन कैसे ले

1. MSME लोन 59 मिनट में

MSME लोन आपके बिजनेस को बढ़ाने के लिए मदद करता है। इस लोन का खास बात यह है की कई लोन संस्थान / बैंक अपने ग्राहकों को बिना किसी भी सुरक्षा के SME और MSME लोन प्रदान करते हैं। MSME लोन का उपयोग व्यवसाय के मालिकों और उद्यमों द्वारा उनकी कार्यशील पूंजी की आवश्यकताओं को पूरा करने, नकदी प्रवाह को प्रबंधित करने या व्यवसाय को बढ़ाने आदि के लिए ले सकते है।

लेकिन कोई भी लोन लेने से पहले उस लोन से जुड़ी सारी जानकारी ले लेनी चाहिए। ताकि बाद में पछताना न पड़े। आपको यह भी जानना चाहिए की अगर आप इस लोन को लेना चाहते है तो क्या आप इस लोन लेने के लिए योग्य है।

MSME बिज़नेस लोन की विशेषताएं

  • आप इस लोन का उपयोग व्यवसाय बढ़ाने, उपकरण खरीदने, कार्यशील पूंजी आदि के लिए ले सकते हैं।
  • यदि आप MSME बिजनेस लोन लेना चाहते है तो में आपको बातादु की इस लोन पर ब्याज दरें 14% प्रति वर्ष से शुरू होती हैं।
  • इस लोन को चुकाने के लिए आपको अधिकतम 5 साल तक का समय दिया जाता है।
  • आपकी पसंदीदा शाखा से आप इस लोन की सुविधा ले सकते है।
  • इस लोन की ब्याज दर व्यावसायिक आवश्यकताओं पर निर्भर करती है।
  • कोई न्यूनतम लोन राशि नहीं है, जबकि अधिकतम लोन राशि ₹1 करोड़ है। इस लोन राशि को व्यावसायिक आवश्यकताओं के अनुसार बढ़ाया जा सकता है।
  • यह एक अनसिक्योर्ड बिज़नेस लोन है जिको लेने के लिए किसी भी सिक्योरिटी देने की जरूरत नहीं है।
  • अगर आप यह लोन लेते हैं तो इस लोन की प्रोसेसिंग फीस लोन राशि का 0 से 4% होगी।
  • इस लोन का फोरक्लोज़र शुल्क बकाया लोन राशि का 0 से 5% तक है।
  • इस लोन का आंशिक भुगतान शुल्क 0 से 4% तक है।
  • इस लोन को अगर आप कैंसिल करते है तो, कैंसिलेशन फीस बैंक से बैंक में अलग अलग होती है।
  • चयनित लोन देने वाली संस्थाओं द्वारा सब्सिडी की पेशकश की जाती है।
  • इस लोन में क्रेडिट सुविधाएं उपलब्ध हैं जो इस प्रकार हैं, वर्किंग कैपिटल लोन, बिल डिस्काउंटिंग, ओवरड्राफ्ट, कैश क्रेडिट, लेटर ऑफ क्रेडिट, बिल परचेज, मर्चेंट ऑफ कैश एडवांस आदि।
  • यह लोन कार्यशील पूंजी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।
  • अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए इस लोन को ले सकते है।
  • यह लोन भारत सरकार द्वारा कैश फ्लो को मैनेज करने के लिए दिया जा रहा है।
  • यह लोन नए उपकरण, कच्चे माल, वाहन  या मशीनरी खरीदने के लिए लिया जा सकता है।
  • इन्वेंट्री को स्टॉक करने के लिए आप यह ऋण ले सकते हैं।
  • यह लोन किराए के भुगतान, वेतन भुगतान आदि के लिए लिया जा सकता है।

MSME लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है ?

  • आवेदन पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक का केवाईसी (आधार कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड और उपयोगिता बिल)
  • अगर कोई सह-आवेदक है, तो उसके केवाईसी दस्तावेज भी
  • आवेदक की आय का प्रमाण
  • आवेदक के व्यावसायिक पते का प्रमाण
  • आवेदक का पिछले 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट
  • अतिरिक्त: लाइसेंस, प्रमाण पत्र और व्यवसाय पंजीकरण की कॉपी
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति या अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित होने का प्रमाण, यदि लागू हो
  • लोन संस्था द्वारा आवश्यक कोई अन्य दस्तावेज

MSME बिज़नेस लोन के लिए योग्यता शर्तें

  • आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम 70 वर्ष तक होनी चाहिए।
  • व्यक्ति, SME, MSME, व्यवसाय, महिला उद्यमी, स्व-नियोजित पेशेवर, एससी / एसटी / ओबीसी श्रेणी के लोग, व्यापारी, कारीगर, खुदरा व्यापारी, सेवा और विनिर्माण क्षेत्रों में लगे व्यवसायइस लोन को आवेदन कर सकते है।
  • प्राइवेट या पब्लिक लिमिटेड, सोल प्रोपराइटरशिप, पार्टनरशिप फर्म, लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप फर्म इस लोन के लिए पात्र है।
  • मौजूदा कारोबार के लिए ₹10 लाख तक बिज़नेस टर्नओवर होना चाहिए , कभी कभी बैंक पर निर्भर भी करता है।
  • अच्छा क्रेडिट स्कोर और वित्तीय स्थिरता होनी चाहिए।
  • सिबिल स्कोर 750 से अधिक होनी चाहिए।
  • अगर आपका कोई बैंक डिफॉल्टर है तो लोन मिलना मुश्किल होगा, तो ध्यान रहे कि आपने किसी लोन संस्थान के साथ डिफॉल्ट तो नहीं किया है।

सरकारी योजनाओं के तहत MSME लोन के प्रकार

नीचे बैंकों द्वारा दी जाने वाली और भारत सरकार द्वारा शुरू की गई लोकप्रिय MSME लोन योजनाएं हैं:

  • CGTMSE: सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट
  • CLSS: क्रेडिट लिंक्ड कैपिटल सब्सिडी योजना
  • क्रेडिट गारंटी योजना
  • PMMY के तहत मुद्रा लोन योजना
  • राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम (एनएसआईसी) सब्सिडी
  • PMEGP: प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम
  • PMRY: प्रधानमंत्री रोजगार योजना
  • 59 मिनट में PSB लोन
  • स्टैंडअप इंडिया
  • स्टार्टअप इंडिया

पोल्ट्री फार्म लोन लेने का आसान तरीका

MSME लोन के लिए आवेदन कैसे करें?

इस बिज़नेस लोन के लिए अप्लाई करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें:

  • सबसे पहले आप psbloansin59minutes.com वेबसाइट पर जाए। लिंक पर क्लिक करके डायरेक्ट वेबसाइट पर जा सकते है।
  • फिर होम पेज पर आपको MSME लोन दिखाई देगा।
  • MSME Loan के ऊपर क्लिक करे।
  • अभी आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जायेगा।
  • सबसे निचे आपको Apply Now का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • इसके बाद आपको अपना पूरा नाम, ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर दे कर रजिस्टर करना होगा। 
  • उसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा, OTP दे कर रजिस्ट्रेशन पूरा करें। 
  • अभी आपके सामने एक फॉर्म ओपन होगा, फॉर्म को पूरा भरे और सभी दस्ताबेज के साथ अपना जीएसटी और आयकर (IT) विवरण अपलोड करने के बाद सबमिट करे। 
  • अभी आपका लोन एप्लीकेशन लोन अफसर के पास चला गया है, अगली सभी अपडेट आपके ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर पर आ जाएगी।   

MSME व्यवसाय लोन योजना हेल्पलाइन

यदि आप इस लोन से जुड़े और भी जानकारी लेना चाहते है तो निचे दिए गए ऑफिसियल नंबर पर कॉल कर सकते है :

  • हेल्पलाइन नंबर : 079-41055999
  • आधिकारिक ईमेल आईडी : [email protected]
  • सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय अधिकारी वेबसाइट : https://msme.gov.in

2. प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY)

भारत सरकार 8 अप्रैल 2015 को एक बिज़नेस लोन योजना लेकर आई थी और इसे प्रधान मंत्री मुद्रा योजना नाम दिया गया है और इसे मुद्रा लोन योजना भी कहा जाता है। मुद्रा बैंक की मदद से हमारे पीएम श्री नरेंद्र मोदी ने इस योजना की शुरुआत की ।

अगर आप मुद्रा लोन लेना चाहते हैं तो प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के बारे में जानने के लिए कई दिलचस्प बिंदु हैं जैसे लोन के प्रकार, ब्याज दर, दस्तावेज आदि। हम इस लेख में लोन से जुड़ी ये सभी बातें बताएंगे।

महिलाओं के लिए मुद्रा लोन योजना

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के प्रकार

आवेदकों के लिए 3 प्रकार के लोन जारी किए। लोन प्रकार नीचे सूचीबद्ध हैं:

  • शिशु: यह शिशु लोन उन लोगों के लिए जारी किया जाता है जिन्हें कम पैसे की आवश्यकता होती है। इस चरण के तहत आवेदक को 50,000 रुपये तक का लोन मिलेगा।
  • किशोर: किशोर लोन उन लोगों के लिए मुद्दा है जो पहले से ही अपना व्यवसाय शुरू कर चुके हैं और अपने व्यवसाय को बेहतर बनाने के लिए कुछ धन चाहते हैं। आवेदक को 50,000 रुपये से 5 लाख रुपये के बीच लोन मिलेगा।
  • तरुण: इस चरण में, एक आवेदक को उच्चतम लोन राशि और आवश्यक पात्रता कुछ शर्तें पर मिलेंगी। आवेदक को 5 लाख रुपये से अधिक और 10 लाख रुपये तक का लोन मिलेगा।

मुद्रा बैंक लोन योजना ब्याज दरें :

ब्याज दरें व्यवसाय और बैंक के प्रकार पर निर्भर करती है। प्रत्येक बैंक के अपने मानदंड होंगे जिसके आधार पर ब्याज दर सेट की जाती है। भारत सरकार ब्याज दरों पर कुछ सब्सिडी दे सकती है लेकिन विशेष प्रतिशत अभी भी घोषित नहीं किया गया है।

  • लेकिन अक्सर देखा जाता है कि यदि आप शिशु लोन लेते हैं तो यह 50000 के शिशु लोन पर बैंक 1% से 12% प्रतिवर्ष की दर से ब्याज दर वसूल करता है।
  • 50000 से 500000 तक के किशोर लोन पर बैंक 8.60% से 11.15% प्रतिवर्ष की दर से ब्याज दर वसूल करता है।
  • 5 लाख से 10 लाख तक के तरुण लोन पर बैंक 11.15% से  20% प्रतिवर्ष की दर से ब्याज दर वसूल करता है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की मुख्य विशेषताएं:

  • भारत सरकार सूक्ष्म या लघु व्यवसाय के साथ-साथ स्टार्ट-अप का भी समर्थन करती है।
  • प्रधान मंत्री मुद्रा योजना पुनर्वित्त एजेंसी है न कि प्रत्यक्ष वित्तीय संस्थान।
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत छोटे दुकानदारों, ब्यूटी पार्लर, मैकेनिक, दर्जी, कुम्हार और ऐसे ही छोटे कारोबारियों को कर्ज किया जायेगा।
  • मौजूदा छोटे व्यवसायी भी इस लोन को लेकर अपनी कारोबार का विस्तार करने में सक्षम होंगे।

दोस्तों अगर आपको प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना से जुड़ी सभी बाते जानना चाहते है, जैसे की मुद्रा लोन कौन सी बैंक देती है, प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के ब्याज दर, पात्रता, जरुरी दस्ताबेज, आवेदन प्रक्रिया आदि यह सभी बाते हमने निचे दिए गए लिंक पर बताया है। यह भी पढ़ें : मुद्रा लोन कितने दिन में मिल जाता है। 

आप उस लिंक पर क्लिक करके सभी जानकारी ले सकते है और अप्लाई भी कर सकते है। हमने यह भी बताया है की आपको इस लोन को लेने पर कितनी सब्सिडी मिलेगी। तो लेख को पूरा पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करे। साथ में यह भी पढ़ सकते है की मुद्रा लोन न चुकाने पर क्या होगा।   

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना लोन सब्सिडी कैसे ले

3. सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए क्रेडिट गारंटी फंड योजना (CGFMSE)

(CGTMSE) योजना सूक्ष्म और लघु उद्यम क्षेत्र को संपार्श्विक-मुक्त ऋण प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा शुरू की गई थी।

 सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय, भारत सरकार और लघु उद्योग विकास बैंक (सिडबी) ने मौजूदा और नई उद्यम योजनाओं दोनों को कवर करने के साथ-साथ सूक्ष्म और लघु उद्यमों के लिए माइक्रो गारंटी फंड योजना शुरू की है।

CGTMSE योजना के लाभ :

  • गारंटी योजना के तहत प्रति पात्र उधारकर्ताओं को 200 लाख रुपये तक की फंड और गैर-निधि आधारित (लेटर ऑफ क्रेडिट, बैंक गारंटी) क्रेडिट सुविधाएं प्रदान की जाती हैं।
  • इस लोन के परियोजना व्यवहार्यता के लिए किसी भी सिक्योरिटी या तीसरे पक्ष की गारंटी देने की जरुरत नहीं होती है।
  • योजना के तहत उपलब्ध गारंटी कवर क्रेडिट सुविधा की स्वीकृत राशि का 50%, 75%, 80% और 85% है।
  • सूक्ष्म उद्यमों के लिए 5 लाख रुपये तक के ऋण के लिए गारंटी कवर की सीमा 85% है।
  • गारंटी कवर खुदरा व्यापार गतिविधि के लिए क्रेडिट सुविधा के 50% से लेकर एमएसई उधारकर्ता के लिए क्रेडिट सुविधा के 50% तक है। गारंटीड कवर रेंज 80% तक होगी।

CGTMSE योजना लोन के पात्रता

  1. विनिर्माण गतिविधि : जैसे खुदरा व्यापार, शिक्षण संस्थानों, स्वयं सहायता समूह, प्रशिक्षण संस्थान
  2. सेवा गतिविधि, सिवाय

प्रधानमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना

4. राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम (NSIC)

राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम (एनएसआईसी) भारत सरकार का एक आईएसओ 9001-2015 प्रमाणित उद्यम है, जो सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (MSME) के अधीन है। एनएसआईसी देश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों के विकास को बढ़ावा देने, सहायता करने और बढ़ावा देने के लिए काम कर रहा है।

विनिर्माण और सेवाओं में शामिल सूक्ष्म और लघु उद्यम (MSEs) पंजीकरण के लिए पात्र हैं। लेकिन व्यापारी इस योजना के तहत पंजीकरण के लिए पात्र नहीं हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हम जानेंगे कि भारत सरकार द्वारा कौन-कौन सी व्यावसायिक योजनाएँ चलाई जा रही हैं। आपको जो भी योजना सही लगे, उस योजना अंतर्गत बिजनेस लोन लेकर आप अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं या पुराने बिजनेस को बड़े पैमाने पर कर सकते हैं।

अगर आपको हमारा यह लेख “प्रधानमंत्री बिजनेस लोन योजना 2022” पसंद आया है, तो आप इसे दोस्तों, रिश्तेदारों या सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं। यदि आपके पास इस लेख से संबंधित कोई प्रश्न है तो इस पोस्ट के कमेंट सेक्शन में कमेंट करें। हम जितनी जल्दी हो सके आपसे संपर्क करेंगे।

यह भी पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here