पोर्न क्या है | पोर्न क्या होता है ?

पोर्न क्या है, देखने पर क्या होता है, देखने से होने वाले नुकसान, एडिक्शन क्या है, क्यों नहीं देखना चाहिए, देखने की आदत से कैसे छुटकारा पाएं, रतिचित्रण क्या है ?

पोर्न क्या होता है : जीवन की भागदौड़ और दिन भर के काम के बाद हर कोई बहुत थक जाता है। इस थकान को दूर करने के लिए बहुत से लोग पोर्न वेबसाइट पर जाकर पोर्न देखते हैं। एक रिसर्च में पाया गया है की, ऐसा करने से उन्हें मानशिक संतुस्ती मिलती है।  लेकिन बहुत से लोग नहीं जानते कि पोर्न क्या है, तो आइए जानते हैं पोर्न क्या होता है और इसके घातक नुकसान क्या है।

पोर्न देखने की इस दौर में सिर्फ लड़के ही नहीं लड़किया भी शामिल है। गूगल ट्रेंड के रिपोर्ट के अनुशार ऐसा 10 शहर है जिनमें सर्वाधिक पोर्न देखा जाता है, उनमे से 7 भारतीय शहर का नाम आया हैं।

पोर्न क्या है

पोर्न क्या है | रतिचित्रण क्या है

1857 में, इंग्लैंड के ऑक्सिन पब्लिकेशन एक्ट को गर्भनिरोधक के प्रचार में प्रकाशित सामग्री को सेंसर करने के लिए तैयार किया गया था। उसी वर्ष, अंग्रेजी भाषा में ऑक्सफोर्ड इंग्लिश डिक्शनरी में ‘पोर्नोग्राफी’ शब्द का प्रवेश किया गया। 19 वीं शताब्दी के मध्य में, यौन छवियों का एक समूह उभरा, जिसकी छाप एक दृश्य प्रणाली के समान थी जिसे ‘पोर्नोग्राफ़ी’ के रूप में जाना जाता है।

आपके दिमाग में अगर अभी घूम रहा है की पोर्न क्या होता है, तो में आपको बताना चाहूंगा की  ‘पोर्न’ का अर्थ है कोई भी लिखित/चित्रित/फिल्माया गया काम जो पुरुष-महिला शारीरिक संबंधों पर केंद्रित हो और जिसे अपने समाज में अश्लील और अभद्र सामग्री के रूप में जाना जाता हो। ऐसी फिल्मों को पोर्न कहा जाता है

पोर्न देखने से होने वाले नुकसान | गलत वीडियो देखने से क्या होता है

  1. एक रेचर्स में पाया गया है की, ज्यादा पोर्न देखने से हमारे शरीर में संभोग करने की क्षमता धीरे-धीरे कम होने जाती है और फिर शादी के बाद या पार्टनर के साथ अपनी सेक्स लाइफ को एन्जॉय नहीं कर पाते हैं।
  2. पोर्न देखने के साथ ज्यादातर लोग हस्तमैथुन करते है। अधिक हस्तमैथुन करने से पोर्न देखने वालों का शरीर धीमा और ढीला हो जाता है।
  3. पोर्न देखने के बाद हस्तमैथुन करने से हमें सुकून और शांति मिलती हैं। लेकिन यह आदत बन जाती है और वापस मन को शांत करने के लिए हम पोर्न का सहारा लेते हैं।
  4. ज्यादा पोर्न देखने से हमारे मन में बलात्कार की भावना पैदा होती है जो एक अच्छे समाज के लिए ठीक नहीं है। इसलिए हम आपको यही सलाह देते हैं कि आप पोर्न जैसी वेबसाइट से दूर रहे।
  5. अधिक पोर्न देखने से लोगों की मानसिक स्थिति खराब भी हो सकता है और ब्लड प्रेशर जैसी समस्या हो जाती है। यह आपके दिमाग को कमजोर कर सकता है और आपका दिमाग काम में भी नहीं लगता।
  6. पोर्न देखने के बाद अक्सर लोग मास्टोमेथेन जैसे गलत काम करते हैं, जिसका हमारे शरीर पर गहरा असर होता है और शरीर में शुक्राणुओं की कमी हो जाती है।
  7. ज्यादा पोर्न देखने से ना सिर्फ आपका शरीर कमजोर ही नहीं होता, बल्कि हमारे दिमाग पर भी गहरा असर पड़ता है।
  8. पोर्न देखने वाले व्यक्ति को हमेशा बेचैनी महसूस होती है। वह हर समय पोर्न के बारे में सोचता है और पोर्न का आदी हो जाता है। इसलिए पोर्न से दूर रहने में ही समझदारी है। पोर्न देखने वाले बक्ति के मन अन्य कार्यों में नहीं रहता और इससे मानसिक विकास भी कम हो जाता है।
  9. ज्यादा पोर्न देखने से लड़कियों और महिलाओं के प्रति एक अलग भाव पैदा होता है और हम इंसानियत से दूर हो जाते हैं।

पॉर्न एडिक्शन क्या है?

जब लोग पहली बार पोर्न देखते हैं तो उन्हें एक अच्छा फीलिंग होता है और आप बार-बार अच्छे फीलिंग की चक्कर में पोर्न देखते हैं और धीरे-धीरे आपको पोर्न की लत लग जाती है। नीचे हमने कुछ पॉइंट के माध्यम से पोर्न की लत के बारे में बताया है :

  • एक बार पोर्न देखने के बाद दूसरी बार देखने की इच्छा होती है और फिर तीसरी, चौथी बार-बार देखने की इच्छा होती है।
  • पोर्न के एडिक्शन होने से सिर्फ शारीरिक नहीं बल्कि मानशिक प्रभाव भी पड़ता है, यह जानते हुए भी लोग वीडियोस देखना पसंद करते है।
  • पोर्न की आदत पड़ना बहुत बुरी चीज़ है। यह आदत लगने से  लोग अपने परिवार, घर और दोस्तों से दूर हो जाते हैं।

पोर्न क्यों नहीं देखना चाहिए | पोर्न देखने के साइड इफ़ेक्ट

  • पोर्न देखने से लोग हमेशा परेशान रहते हैं और वह शख्स हमेशा पोर्न के बारे में सोचने पर मजबूर हो जाता है। जिससे बलवान लोगों को मानसिक रोग भी अधिक होते हैं।
  • पोर्न देखने के लिए कई वेबसाइटों को मोबाइल डेटा के साथ-साथ पैसे भी देने पड़ते हैं। इससे न सिर्फ आपका पैसा बल्कि आपका समय भी बर्बाद होता है।

पोर्न देखने की आदत से कैसे छुटकारा पाएं

बहुत से लोग पोर्न के आदी हो चुके हैं और वे पोर्न से छुटकारा पाना चाहते हैं, लेकिन लोग इससे दूर नहीं हो पा रहे हैं। तो नीचे हमने कुछ पॉइंट्स शेयर किए हैं। इसे पढ़ें, हमें उम्मीद है कि यह पॉइंट सभी के लिए उपयोगी रहेगा।

  • अपने मोबाइल या लैपटॉप से सभी पोर्न वेबसाइटों को ब्लॉक करें और कभी भी पोर्न से संबंधित चीजों की खोज न करें।
  • हमेशा नई चीजों में भाग लें और नए नई चीजे को करने के लिए खुद को प्रेरित करते रहे।
  • यदि आप स्टूडेंट है तो ज्यादा से ज्यादा समय पढाई करे और यदि आप स्टूडेंट नहीं है तो खुद को काम में व्यस्त रखे।
  • जब भी आपके मन में पोर्न का ख्याल आए तो गाना सुने, यूट्यूब पर अच्छे वीडियो देखे और आजकल सबके पास इंटरनेट है तो अच्छी फिल्में भी देख सकते है ।
  • ज्यादा से ज्यादा समय परिवार या दोस्तों के साथ रहें, नए टॉपिक पर बात करें ताकि आपका ज्ञान बड़े और आप खुद को पोर्न से दूर रख पाए।

FAQ – पोर्न से जुड़े प्रश्न

Q. पोर्न देखने का मन क्यों करता है?

Ans. जीवन की भागदौड़ और दिन भर के काम के बाद हर कोई बहुत थक जाता है। इस थकान को दूर करने के लिए बहुत से लोग पोर्न वेबसाइट पर जाकर पोर्न देखते हैं। एक रिसर्च में पाया गया है की, ऐसा करने से उन्हें मानशिक संतुस्ती मिलती है।

Q. क्या पोर्न देखना स्वास्थ्य के हानिकारक है ?

Ans. पोर्न देखना स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी हानिकारक नहीं है। लेकिन अधिक पोर्न देखने से लत लग जाती है और यह शरीर के लिए हानिकारक हो जाता है।

Q. क्या पोर्न एडिक्टेड और सेक्स एडिक्टेड दोनों एक ही है ?

Ans. जी नहीं! दोनों चीजें अलग अलग है।

Q. पोर्न देखने की लत ख़त्म नही हुई तो क्या होगा?

Ans. तो आप शारीरिक और मानसिक बीमारी की चपेट में आ सकते हैं।

Q. पोर्न क्या कहलाता है?

Ans. ‘पोर्न’ का अर्थ है कोई भी लिखित/चित्रित/फिल्माया गया काम जो पुरुष-महिला शारीरिक संबंधों पर केंद्रित हो और जिसे अपने समाज में अश्लील और अभद्र सामग्री के रूप में जाना जाता हो।

Q. क्या भारत में पोर्न देखना गुनाह है?

Ans. जी नहीं ! पोर्न देखना गुनाह नहीं है।

Q. गैरकानूनी कब होता है ?

Ans. जब आप पोर्न से जुड़ी चीजें लोगों के साथ शेयर करते हैं तो यह गैरकानूनी हो जाता है, इसके लिए आप पर कानूनी रूप से जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

Q. पोर्न देखने के उम्र?

Ans. हमारे हिसाब से आपको पोर्न जैसी चीजों से दूर रहना चाहिए, फिर भी मैं आपको बता दूं कि पोर्न देखने के लिए आपकी उम्र 18 साल होनी चाहिए।

विशेष लेख : हम पोर्न जैसी चीजों का प्रचार नहीं करते हैं। हमने यह लेख शिक्षा के उद्देश्य से लिखा है। हमारा उद्देश्य इस लेख के प्रति लोगों को जागरूक करना है, ताकि सभी पोर्न वीडियो से दूर रहे और पोर्न के हानिकारक प्रभावों से लोगो को बचाया जा सके।

यह भी पढ़ें :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here