पढ़ाई के लिए लोन कैसे मिलता है? Padhai Ke Liye Loan Kaise Milta Hai

0

पढ़ाई के लिए लोन कैसे मिलता है : यदि किसी छात्र के परिवार के पास धन की कमी की बजह से उच्च शिक्षा प्राप्त करने में कठिनाई आ रही है, तो एजुकेशन लोन आपकी इस आवश्यक राशि को प्राप्त करने और छात्र की उच्च शिक्षा को पूरी करने में में मदद करता है।

एजुकेशन लोन एक ऐसा लोन है जो भारत या विदेश में आगे की पढ़ाई या छात्र के स्कूल से संबंधित अन्य खर्चों जैसे ट्यूशन की लागत, हॉस्टल फीस, फ्लाइट टिकट, फर्नीचर आदि के लिए लिया जाता है।

दोस्तों, हम जानते है की अभी आपके मन में एक सवाल बार बार आ रहा है की पढ़ाई के लिए लोन कैसे मिलता है। तो में आपको बताना चाहंगा की अभी आपको करने  बिलकुल भी जरुरत नहीं है, क्यों की आज हम इस लेख में आपको बताने वाले है की पढ़ाई के लिए लोन कैसे लिया जाता है, साथ ही बताएँगे की विदेश में पढ़ाई करने के लिए लोन कैसे मिलेगा, क्या किसी छात्र को तुरंत लोन मिल सकता है, कौन कौन से बैंक एजुकेशन लोन देते हैं, एजुकेशन लोन पर कितना ब्याज लगता है आदि।  

यदि आपको यह सभी बातें जानना है, तो इस लेख को पूरा पढ़े। आपको विस्वास दिलाता हु की, में आपको निराश नहीं करूँगा। इस लेख से आपको एजुकेशन लोन की सारी बातें आसानी से समझ में आ जायेगा और आप तुरंत लोन प्राप्त कर सकेंगे। अगर आप जानना चाहते हैं कि 12वीं की मार्कशीट पर कितना लोन मिल सकता है तो इस लिंक पर क्लिक करें।  

पढ़ाई के लिए लोन कैसे मिलता है
पढ़ाई के लिए लोन कैसे मिलता है?

विषयसूची

पढ़ाई के लिए लोन कैसे मिलता है?

एजुकेशन लोन की बात करें तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि एजुकेशन लोन, पर्सनल लोन और होम लोन की तरह एक प्रकार का उनसिक्योर्ड लोन है, लेकिन अगर लोन की राशि अधिक है तो यह सिक्योर्ड लोन के अंतर्गत आता है।

छात्र अपनी उच्च शिक्षा के लिए शिक्षा ऋण लेते हैं और बैंक छात्र को यह ऋण आसानी से उपलब्ध कराने में भी मदद करता है। इस लोन में सबसे अच्छी बात यह है की, छात्र को लोन लेने के तुरंत लोन चुकानी नहीं होती। अपनी पढ़ाई पूरा करने के बाद छात्र को नौकरी या स्व-नियोजित होने के लिए 6 महीने की समय मिलता है, इसके बाद विद्यार्थी को अपना लिया हुआ लोन को चुकाना होता है। पढ़ाई के लिए कैसे लोन मिलेगा यह जानने के साथ साथ यह भी जाने की एजुकेशन लोन कितना मिल सकता है?     

10वीं मार्कशीट पर कितना लोन मिल सकता है

एजुकेशन लोन कितने प्रकार का होता है?

छात्र अपनी जरूरतों की हिसाब से एजुकेशन लोन के लिए आवेदन कर सकते है। नीचे हमने इसके बारे में विस्तार से बताया है :

  • स्थान के आधार जैसे : घरेलू शिक्षा, विदेश में अध्ययन,
  • पाठ्यक्रम के आधार पर जैसे : स्नातक ऋण, स्नातकोत्तर ऋण, कैरियर विकास ऋण, माता-पिता द्वारा शिक्षा ऋण,
  • संपार्श्विक के आधार पर जैसे : संपत्ति, जमा और प्रतिभूतियों पर ऋण, तृतीय-पक्ष गारंटी।

स्थान के आधार पर पढ़ाई के लिए लोन कौन से है?

विद्यार्थी देश हो या विदेश दोनों खेत्रो में पढ़ने के लिए एजुकेशन लोन ले सकते है। स्थान के आधार पर एजुकेशन लोन दो प्रकार का होता है, घरेलू शिक्षा ऋण और विदेश में अध्ययन शिक्षा ऋण। यदि प्रधानमंत्री शिक्षा लोन योजना के तहत स्टूडेंट लोन लेना चाहते है, तो इस लिंक पर क्लिक करें।

1. घरेलू शिक्षा ऋण :

भारत में उच्च शिक्षा का अध्ययन करने के कई सारी बैंक एजुकेशन लोन प्रदान करती है। बढ़ती लागत और जटिल प्रवेश प्रक्रियाओं के लिए सरल, त्वरित, अनुकूलित समाधान की आवश्यकता है। इसलिए, बैंक भी विद्यार्थी के पसंद के विश्वविद्यालय में अपने सपनों की शिक्षा को पूरा करने में आपकी मदद करने के लिए लोन प्रदान करता है।

2. विदेश में अध्ययन एजुकेशन लोन :

अगर आप विदेश में पढ़ाई के लिए एजुकेशन लोन लेना चाहते हैं तो आपको बैंक से संपर्क करना चाहिए। बैंक आपके शिक्षा ऋण की स्वीकृति प्राप्त करना बहुत आसान बना देंगे। इस लोन में आप ट्यूशन, हॉस्टल फीस, फ्लाइट टिकट, फर्नीचर आदि का खर्चा पूरा करने में मदद करता हैं।

पाठ्यक्रम के आधार पर पढ़ाई के लिए लोन कौन से है? 

यह लोन विद्यार्थी अपनी पढ़ाई के आधार पर लोन का चयन करके लोन के लिए आवेदन कर सकता है।

1. स्नातक ऋण  :

जो छात्र पैसे की कमी के कारण स्नातक की डिग्री प्राप्त करने में असमर्थ हैं, वे इस प्रकार के शिक्षा ऋण का लाभ उठा सकते हैं। स्नातक की डिग्री 3 से 4 साल का कोर्स होता है। 

2. स्नातकोत्तर ऋण :

छात्र अपने स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम को जारी रखने के लिए इस प्रकार के ऋण का लाभ उठा सकता है। आमतौर पर भारत में यह कोर्स 2 साल की अवधि का होता है।

3. कैरियर विकास ऋण :

एसे लोन जो कॉर्पोरेट सेक्टर में नौकरी करते है और अपनी रोजगार को बढ़ने या कंपनी में एक अच्छी पोज़िशन के लिए पाठ्यक्रम और प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहते है। इस प्रकार के लोग नौकरी के साथ साथ अपनी पढ़ाई पूरा करने के लिए इस लोन को ले सकता है।

4. अभिभावक द्वारा लिया पढ़ाई के लिए लोन :

अभिभावक चाहे तो अपने बच्चों को उच्च शिक्षा देने और शिक्षा से संबंधित खर्चों को पूरा करने के लिए यह ऋण ले सकते हैं। इस लोन को माता-पिता या अन्य रिश्तेदार भी अपने बच्चों की पढाई के लिए ले सकते है। 

बैंक ऑफ बड़ौदा से लोन कैसे ले 

संपार्श्विक (Collateral) के आधार पर पर पढ़ाई के लिए लोन कौन से है? 

इस लोन को लेने के लिए आपको अपनी संपत्ति को बैंक में जमा करना होगा। इसके बारे में हमने नीचे बताया है :

1. संपत्ति, जमा और प्रतिभूतियों पर लोन :

शिक्षा को आगे बढ़ाने और अपनी शिक्षा संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए आप अपनी कोई भी चीज गिरवी रखकर इस लोन का लाभ उठा सकते हैं। संपार्श्विक (Collateral) आपके शिक्षा ऋण के खिलाफ गिरवी रखी गई संपत्ति है। यह आपकी  संपत्ति या फिक्स्ड डिपाजिट जैसी अमूर्त संपत्ति हो सकती है।

2. तृतीय-पक्ष गारंटी :

बैंक उधारकर्ता से गारंटी की मांग करते हैं जो उनके ऋण चुकौती को सुनिश्चित करेगा। एक गारंटीकृत ऋण वह होता है जहां उधारकर्ता द्वारा चुकाने में विफल होने की स्थिति में कोई तीसरा पक्ष ऋण दायित्व की गारंटी देता है।

पढ़ाई के लिए लोन के लाभ और विशेषताएं क्या क्या है?

  • जो छात्र अपनी आगे की पढ़ाई पैसों की वजह पूरा नहीं कर पा रहा है, वह पढ़ाई को पूरा करने के लिए लोन ले सकता है।  
  • शिक्षा ऋण छात्रों की शिक्षा संबंधी सभी जरूरतों को पूरा करने में मदद करता है।
  • कुछ छात्र का सपना होता है की इंडिया के बाहर जाकर उच्च शिक्षा प्राप्त करना, एसे छात्र इस लोन का लाभ उठा सकता है।  
  • ऋण राशि बैंक और आपकी पढ़ाई की खर्चो पर निर्भर करती है। कुछ बैंक अधिक ऋण प्रदान करते हैं, कुछ बैंक कम ऋण प्रदान करते हैं, इसलिए ऋण लेने से पहले इस बारे में बात करें।
  • भारत में पढ़ने के लिए छात्र 15 लाख तक का लोन और भारत से बाहर पढ़ने के लिए छात्रों को 20 लाख तक का लोन मिल सकता है। इसे अधिक लोन लेने के लिए सिक्योरिटी देनी होती है।
  • शिक्षा लोन प्राप्त करने के लिए छात्र को  किसी मित्र, माता-पिता या रिश्तेदार जैसे सह-हस्ताक्षरकर्ता की आवश्यकता हो सकती है।
  • छात्र अपनी कोर्स को पूरा करने के बाद 6 महीने का एक्स्ट्रा समय मिल जाता है, इसके बाद लोन चुकाना होता है। इस लोन को चुकाने के लिए आवेदक को 12 साल तक का समय मिल सकता है।  
  • एजुकेशन लोन पर टैक्स बेनेफ़िट्स का लाभ भी मिलता है।
  • जब आप अपना एजुकेशन लोन समय पर चुकाते हैं, तो आपके क्रेडिट स्कोर में भी सुधार होता है। यही कारण है कि आने वाले समय में आपको पर्सनल लोन, होम लोन, कार लोन जैसे लोन आसानी से मिल सकते हैं।

पढ़ाई के लिए लोन की ब्याज दर

आपको बताना चाहूंगा कि किसी भी लोन लेने से पहले उस लोन की ब्याज दर के बारे में जानना बहुत आवश्यक है। क्यों की हर एक बैंक का अलग अलग ब्याज दर होता है। ब्याज दर के साथ आपको उस लोन कि प्रोसेसिंग फीस और अन्य शुल्क के बारे में भी जानकारी प्राप्त करना चाहिए, ताकि लोन चुकाते समय किसी भी दिक्कत का सामना करना न पड़े।  ब्याज दर की बात करें तो पढ़ाई के लिए लोन पर सालाना 7% से 13% की दर से ब्याज देना होगा।

पढ़ाई के लिए लोन की पात्रता क्या है?

जो विद्यार्थी बैंक के सभी नियमों और शर्तों को पूरा करते है, बस यही विद्यार्थी पढ़ाई के लिए लोन के लिए पात्र होते है।  

  • आवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • यदि आप किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय/कॉलेज में डिग्री/डिप्लोमा पाठ्यक्रम में अड्मिशन लेते हैं तो आप इस लोन के लिए पात्र हैं।
  • छात्र के पास लास्ट पाठ्यक्रम के मार्कशीट और सर्टिफिकेट होना जरुरी है।
  • गैर-नियोजित व्यक्तियों के लिए आयु 35 वर्ष तक और नियोजित व्यक्तियों के लिए 45 वर्ष तक होनी चाहिए।
  • शिक्षण संस्थान में प्रवेश का प्रमाण।
  • गारंटर का आय प्रमाण या क्रेडिट इतिहास।
  • विदेश में पढ़ाई के मामले में पासपोर्ट/i20 फॉर्म/वीजा।

सरकारी बैंक से लोन कैसे मिलेगा

पढ़ाई के लिए लोन के लिए कौन से दस्तावेज आवश्यक हैं?

  • पहचान का प्रमाण जैसे आधार कार्ड/पासपोर्ट/ड्राइविंग लाइसेंस आदि
  • पते या निवास का प्रमाण जैसे आधार कार्ड/पासपोर्ट इत्यादि।
  • पासपोर्ट आकार के फोटो के साथ पूरी तरह से भरा हुआ आवेदन पत्र
  • शिक्षण संस्थान के लेटरहेड पर प्रवेश पत्र
  • आवेदक के शैक्षणिक प्रमाण पत्र
  • प्रवेश परीक्षा की मार्कशीट
  • छात्रवृत्ति दस्तावेज
  • घोषणा कि किसी अन्य ऋणदाता से कोई ऋण नहीं लिया गया है

पढ़ाई के लिए लोन आवेदन कैसे करें?

इस लोन को लेने के लिए आप ऑनलाइन हो या ऑफलाइन दोनों तरीको से आवेदन कर सकते है। भारत के कई सारे बैंक है जो एजुकेशन लोन प्रदान करते है।

आवेदन करने से पहले उस लोन के बारे में जानकरी जरूर प्राप्त करे। आप जिस बैंक से लोन आवेदन करना चाहते है उस बैंक की वेबसाइट पर जाकर लोन की जानकारी प्राप्त कर सकते है। यदि आपको इंटरनेट चलनी नहीं आती है, तो आप नजदीकी बैंक शाखा में जाकर जानकारी प्राप्त करे।    

एजुकेशन लोन ऑनलाइन अप्लाई :

  • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आप जिस बैंक से एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई करना चाहते हैं, उस बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • फिर आपको लोन सेक्शन में जाकर एजुकेशन लोन सेलेक्ट करना होगा।
  • अभी आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा।
  • फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारी भरे और जरुरी दस्ताबेजों को अपलोड करे।
  • लोन की राशि का चयन करे और लोन चुकाने की अवधि को सेट करे।
  • इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक करे।
  • अभी आपका ऑनलाइन एजुकेशन लोन अप्लाई पूरा हो गया है।
  • फिर बैंक आपसे संपर्क करेगा और आगे की कारवाई पूरा करेगा।   

एजुकेशन लोन ऑफलाइन अप्लाई :

  • ऑफलाइन अप्लाई करने के लिए आपको नजदीकी बैंक शाखा में जाना होगा। 
  • फिर बैंक मैनेजर से एजुकेशन लोन की सारी जानकारी प्राप्त करे।
  • इसके बाद बैंक से लोन अप्लाई करने लिए फॉर्म ले।
  • फॉर्म को पूरा भरे और सभी जरुरी दस्ताबेज को फॉर्म के साथ अटैच करे।
  • फिर बैंक में जमा कर दीजिये।
  • बाद में बैंक आपसे संपर्क करेगा और आगे की कारवाई पूरा करेगा।

सबसे सस्ता पर्सनल लोन किस बैंक का है 

एजुकेशन लोन क्यों लेना चाहिए?

  1. शिक्षा महंगी है– उच्च शिक्षा के लिए आपके पास पर्याप्त धन नहीं है, इसलिए एजुकेशन लोन आपको तत्काल लोन प्रदान करता है। एक अच्छी शिक्षा महंगी होती है और इसको एजुकेशन लोन ही पूरा कर पाता है।
  2. विशेष सहायता – जमानत राशि, पुस्तकालय शुल्क, प्रयोगशाला शुल्क, छात्रावास शुल्क आदि के लिए अतिरिक्त राशि, यह शिक्षा ऋण के साथ अधिक व्यवस्थित और निर्बाध है।
  3. व्यापक रूप से और आसानी से उपलब्ध – कुछ बुनियादी आवश्यकताओं के अनुरूप इस लोन को आप आसानी से ले सकते है।
  4. समय पर सहायता – आपके सेमेस्टर शुल्क का जल्द से जल्द भुगतान करने के लिए समय पर सहायता प्रदान करने में मदद करता है।

निष्कर्ष

फीस स्ट्रक्चर में सालाना बढ़ोतरी के रूप में एजुकेशन लोन हर दिन लोकप्रिय होता जा रहा है। आपको अपने महान भविष्य के लिए केवल एक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की आवश्यकता है। शिक्षा को ही सबसे मूल्यवान संपत्ति माना जाता है। लेकिन, कुछ संस्थानों में यह बहुत महंगा है और सभी के लिए आसानी से उपलब्ध नहीं है। ऐसे में एजुकेशन लोन बेहद जरूरी है।

इतने सारे विद्यार्थी बैंकों और वित्तीय संस्थानों में शैक्षिक ऋण के लिए आवेदन करते हैं ताकि मेधावी और योग्य छात्रों के लिए भारत या विदेश में अपनी उच्च और बुनियादी शिक्षा प्राप्त करने के लिए अपनी पढ़ाई जारी रखी जा सके।

दोस्तों अगर आपको यह लेख “पढ़ाई के लिए लोन कैसे मिलता है” पसंद आया हो या इस लेख से कोई मदद मिली हो, तो हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। आपकी कमेंट हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है और अगर इस लेख में कुछ भी गलत पाया है, तो हमें बताएं, ताकि हम अपनी गलती को सुधार सकें।

FAQ – सवाल जवाब

Q. विदेश में पढ़ाई करने के लिए लोन कैसे मिलेगा?

विदेश में पढ़ाई करने के लिए आपको एजुकेशन लोन लेना होगा। मैंने इस लेख में एजुकेशन लोन कैसे लेते है इसकी पूरी जानकारी प्रदान की है। इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद आपको पता चल जायेगा की विदेश में पढ़ाई करने के लिए लोन कैसे मिलेगा।  

Q. क्या मुझे विदेश में पढ़ाई करने के लिए पर्सनल लोन मिल सकता है?

भारत के सभी बैंक विदेश में पढ़ाई करने के लिए एजुकेशन लोन प्रदान करता है और यह पर्सनल लोन से बहुत अच्छा है। यदि आपको पर्सनल लोन की आवश्यकता है, तो यह पढ़े : पर्सनल लोन कैसे मिलेगा।

Q. क्या किसी छात्र को तुरंत लोन मिल सकता है?

यदि किसी छात्र लोन की पात्रता को पूरा करते है और आप बैंक के सभी नियमों और शर्तो को मानते है, तो उस छात्र को तुरंत लोन मिल सकता है।

Q. कौन कौन से बैंक एजुकेशन लोन देते हैं?

भारत में सभी राष्ट्रीय बैंक विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए एजुकेशन लोन प्रदान करते हैं।

Q. एजुकेशन लोन पर कितना ब्याज लगता है?

एजुकेशन लोन लेने पर आपको सालाना 7% से 13% की दर से ब्याज देना होगा।

यह भी पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here