ई-रिक्शा लोन कैसे मिलेगा और अप्लाई कैसे करें?

0

भारत में परिवहन क्षेत्र में ई-रिक्शा के आगमन के साथ एक बड़ा परिवर्तन देखा गया है। इन इको-फ्रेंडली वाहनों ने न केवल यात्रियों को सुविधा प्रदान की है बल्कि रोजगार के नए अवसर भी खोले हैं। ई-रिक्शा की बढ़ती मांग के साथ, बहुत से लोग खुद के रोजगार शुरू करने के लिए उत्सुक हैं और ई-रिक्शा खरीदना चाहते है।

हालांकि, ई-रिक्शा के खरीदने के लिए उच्च लागत की जरुरत होती है। एक आम आदमी को अक्सर ई-रिक्शा खरीदने के लिए आवश्यक धन इकट्ठा करना मुश्किल होता है, जो आम तौर पर लगभग एक से डेढ़ लाख रुपये तक होता है।

लेकिन आज के इस डिजिटल जमाने में पैसो की कमी से आपके वित्तीय स्थिरता और स्वतंत्रता के मार्ग में बाधा नहीं बनेगा। क्यूंकि आम आदमी ई-रिक्शा ऋण की उपलब्धता के साथ, अब ई-रिक्शा का मालिक हो सकता है और अपना रोजगार शुरू कर सकता है।

ये लोन विशेष रूप से उन लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं जो ई-रिक्शा खरीदना चाहते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि इन ऋणों को आसान शर्तों और लचीले पुनर्भुगतान विकल्पों के साथ प्राप्त किया जा सकता है।

ई-रिक्शा ऋण के साथ, आप आसानी से ई-रिक्शा की कीमत का 75% से 85% फाइनेंस कर सकते और अपनी सुविधा के अनुसार मासिक किश्तों में लोन राशि का पुनर्भुगतान कर सकते हैं। आपको बस ई-रिक्शा खरीदते समय उसकी कीमत का 20% से 25% डाउन पेमेंट देना होगा।

यदि आप इसके बारे में अधिक जानना चाहते है की, ई-रिक्शा लोन कैसे मिलेगा और ई-रिक्शा लोन अप्लाई ऑनलाइन कैसे करें, तो इस लेख को पूरा पढ़े और बिना किसी झंझट के लोन प्राप्त करने की जानकारी प्राप्त करें। 

रिक्शा पर कितना लोन मिलता है?

वित्तीय संस्थान आम तौर पर ई-रिक्शा की मूल लागत का 75% से 85% तक ऋण देते हैं। उदाहरण के लिए, यदि ई-रिक्शा की कीमत एक लाख रुपये है, तो आपको डाउन पेमेंट के रूप में बीस हजार रुपये नकद देने होंगे और शेष राशि को वित्त कंपनी से ऋण द्वारा कवर किया जा सकता है।

यदि आपके पास डाउन पेमेंट देने के लिए पैसा नहीं है, तो कुछ मामलों में, यदि आपके पास घर या खेत जैसी कोई संपत्ति है, तो आप उस संपत्ति को गिरवी रखकर ऋण की राशि के 100 प्रतिशत तक की ई-रिक्शा ऋण राशि पात्र कर सकते हैं।

ई रिक्शा का डाउन पेमेंट क्या है?

ई-रिक्शा ऋण के लिए डाउन पेमेंट आम तौर पर वाहन की कुल लागत का एक हिस्सा होता है जिसे उधारकर्ता को नकद में ई-रिक्शा खरीदने के लिए अग्रिम भुगतान करना होता है और शेष राशि को फिर वित्त कंपनी से ऋण द्वारा कवर किया जाता है।

ई रिक्शा डाउन पेमेंट ई-रिक्शा की कुल लागत के 15 से 25 प्रतिशत की सीमा में होती है, हलाकि यह ऋण समझौते और ऋणदाता की आवश्यकताओं के आधार पर भिन्न हो सकती है।

डाउन पेमेंट सुरक्षा जमा के रूप में कार्य करता है और समय के साथ ऋण राशि और समग्र ब्याज भुगतान को कम करने में मदद करता है।

ऑटो रिक्शा डाउन पेमेंट कितना है?

ई-रिक्शा लोन की ब्याज दर क्या है?

एजेंसियां 10% से 12% तक की उच्च ब्याज दरों के साथ ऋण की पेशकश कर सकती हैं, जो समय के साथ ऋण की कुल लागत में काफी वृद्धि कर सकता है।

दूसरी ओर, बैंक आम तौर पर कम ब्याज दरों की पेशकश करते हैं, जो 7% से 8% तक होती है। साथ ही यदि आप एक सरकारी योजना के लिए पात्र हैं, तो यह अतिरिक्त लाभ भी प्रदान करती है। लेकिन बैंक से लोन प्राप्त करने में थोड़ा मुसकिल और अधिक समय लग सकता है।

ई-रिक्शा लोन कितने समय के लिए लिया जा सकता है?

ई-रिक्शा ऋण लेते समय विचार करने के लिए ऋण चुकाने की समय अवधि एक महत्वपूर्ण कारक है। आम तौर पर, वाहनों के लिए ऋण अवधि एक वर्ष से तीन वर्ष की अवधि के लिए उपलब्ध होती है, लेकिन यदि आप बैंक से ई-रिक्शा ऋण लेना चाहते हैं, तो पुनर्भुगतान की अवधि पांच वर्ष तक मिल सकती है।

ऋण अवधि चुनते समय, अपनी वित्तीय स्थिति और नियमित पुनर्भुगतान करने की क्षमता पर विचार जरूर करें है। लंबी चुकौती अवधि आपकी मासिक किश्तों को कम कर सकती है, लेकिन इससे आपको अधिक ब्याज पड़ सकता है।

यदि आप अभी जानना चाहते है की फाइनेंस पर ई-रिक्शा लेने पर आपकी मासिक EMI कितनी होगी,तो आप इस लिंक पर जाए (ई रिक्शा ईएमआई कैलकुलेटर) और डाउन पेमेंट, बैंक ब्याज दर, लोन चुकौती अवधि चुन कर मासिक EMI की राशि का पता लगा सकता है।   

मुख्यमंत्री कार लोन योजना का लाभ कैसे उठाएं?

ई रिक्‍शा लोन के लिए जरूरी दस्‍तावेज क्या क्या है?

यदि आप ई-रिक्शा ऋण लेने पर विचार कर रहे हैं, तो आवश्यक दस्तावेजों के साथ तैयार रहना महत्वपूर्ण है। ई-रिक्शा लोन के लिए आवेदन करने के लिए आवश्यक प्रमुख दस्तावेजों की सूची निम्नलिखित दी गई है:

  • आधार कार्ड: यह एक अनिवार्य दस्तावेज है जो पहचान और निवास के प्रमाण के रूप में कार्य करता है।
  • पैन कार्ड: आपकी वित्तीय स्थिति को सत्यापित करने के लिए पैन कार्ड आवश्यक होता है।
  • आय का प्रमाण: आपको आय का प्रमाण देना होगा, जो ऋण चुकाने की आपकी क्षमता को प्रदर्शित करता है।
  • बीपीएल कार्ड (यदि लागू हो): यदि आप गरीबी रेखा से नीचे हैं, तो आप रियायती दर पर ऋण के लिए पात्र हो सकते हैं।
  • बैंक खाता: आपको पास एक बैंक अकाउंट होना जरुरी है, जिससे हर महीना किस्त चुकाया जा सके। 
  • बैंक स्टेटमेंट: आपको पिछले 3 महीने का बैंक स्टेटमेंट देना होगा, जिससे लोन संस्था आपकी वर्त्तमान वित्तीय स्थिति का पता लगाएगा।

59 मिनट में पीएनबी वाहन ऋण कैसे लें?

ई-रिक्शा लोन लेने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

ई-रिक्शा ऋण लेने से पहले विचार करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बिंदु निम्नलिखित हमने दिया हैं:

  1. ब्याज दरें: लोन लेने से पहले ब्याज दर की जानकारी प्राप्त कर लें, नहीं तो बाद में आपको अधिक ब्याज दर का सामना करना पड़ सकता है। फाइनेंस एजेंसी के ब्याज दर बैंक की ब्याज दर की तुलना में हमेशा अधिक होती है, इसलिए लोन लेने से पहले सभी बित्तीय संस्थान की ब्याज दर की तुलना जरूर करें। 
  2. ऋण अवधि: लोन चुकाने की अवधि अपनी क्षमता के अनुसार चुने, ताकि लोन चुकाने में कोई भी पड़ेशानी न हो। फाइनेंस कंपनी की तुलना में बैंक की ऋण अवधि अधिक होती है।  
  3. ऋण चुकौती की क्षमता: यदि आप ऋण चुकाने में असमर्थ होते हैं, तो आपका ई-रिक्शा को वित्त कंपनी द्वारा जब्त किया जा सकता है। इसलिए ऋण लेने से पहले सुनिश्चित करें कि आप ऋण का भुगतान कर सकते हैं। यह भी पढ़े: लोन न चुकाने पर जेल हो सकती है?
  4. छिपे हुए शुल्क: ऋण लेने से पहले हमेशा पूछें कि क्या कोई छिपे हुए शुल्क हैं, और सभी नियमों और शर्तों को पूरी तरह से अच्छी तरह समझिए।
  5. डाउन पेमेंट: सुनिश्चित करें कि आपके पास ई-रिक्शा की कीमत के 15% से 25% तक का डाउन पेमेंट करने के लिए पर्याप्त पैसा हैं।
  6. किस्त: जानिए क्या होगी लोन की मासिक किस्त। एक बार कर्ज लेने के बाद किश्त बदलना मुश्किल होता है। आप अधिक जानकारी के लिए यह भी पढ़ सकते है की Emi नहीं चुकाने पर क्या होता है?
  7. ई-रिक्शा का चुनाव: ई-रिक्शा के मॉडल और रंग पर ध्यान से विचार करें, क्योंकि जब तक आप कर्ज नहीं चुकाएंगे, तब तक आप इसे बेच नहीं पाएंगे।
  8. बैंक एटीएम: किसी एजेंसी से कर्ज लेते समय अपना बैंक का एटीएम कार्ड लेकर आएं ताकि हर महीने किस्त अपने आप कट सके। इससे आप देर से भुगतान करने के शुल्क से बच सकते हैं। क्यूंकि कभी-कभी हम किश्त का भुगतान करना भूल जाते हैं और सही समय पर भुगतान न करने पर फाइनेंस कंपनी पेनल्टी लगा देते है।
  9. मासिक नकद भुगतान: कुछ एजेंसी कंपनियां ई-रिक्शा चालकों की सुविधा के लिए मासिक नकद भुगतान की अनुमति देती हैं। इस विकल्प के बारे में जानने के लिए पूछताछ जरूर करें।

कर्ज न चुकाने की सजा क्या है?

ई-रिक्शा लोन अप्लाई कैसे करें?

आप बैंक या फाइनेंस कंपनी के माध्यम से लोन के लिए अप्लाई करके, आसानी से ई-रिक्शा लोन प्राप्त कर सकते है। ई-रिक्शा के लिए ऋण प्राप्त करने में आपकी सहायता करने के लिए, हमने  स्टेप बाई स्टेप जानकारी प्रदान की है:

  1. सभी आवश्यक दस्तावेज इकट्ठा करें: ऋण के लिए आवेदन करने से पहले, सुनिश्चित करें कि आपके पास सभी आवश्यक दस्तावेज हैं, जैसे कि आपका पहचान प्रमाण, पता प्रमाण, आय प्रमाण, और कोई भी अन्य दस्तावेज जिसकी बैंक या वित्तीय एजेंसी को आवश्यकता होती है।
  2. ऋणदाता चुने: आप बैंक या फाइनेंस एजेंसी के फायदे और नुकसान के बारे में जाने और ऋण लेने का विकल्प चुने।
  3. लोन एप्लीकेशन फॉर्म भरें: आप अपने पसंदीदा किसी बैंक या लोन संस्था से लोन के लिए अप्लाई करने के लिए अपने सभी डॉक्यूमेंट्स के साथ बैंक जाएं और ब्राँच मैनेजर से बात करके लोन एप्लीकेशन फॉर्म भरें।
  4. आवश्यक दस्तावेज जमा करें: ऋण आवेदन पत्र भरने के बाद, बैंक या वित्तपोषण एजेंसी को सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करें।
  5. ऋण संवितरण: यदि आपका ऋण स्वीकृत हो जाता है, तो ऋण राशि आपके व्यक्तिगत बैंक खाते के बजाय सीधे ई-रिक्शा विक्रेता के बैंक खाते में संवितरित की जाएगी। वित्तपोषण एजेंसी आपको सीधे ऋण वितरित कर सकती है, लेकिन वितरित राशि ई-रिक्शा की लागत के 80 से 85 प्रतिशत तक सीमित हो सकती है।

आजकल हर किसी के पास इतना समय नहीं होता है, इसलिए इस बात को ध्यान में रखते हुए ई-रिक्शा बेचने वाले डीलर्स अलग-अलग बैंकों या फाइनेंस कंपनियों से टाइअप करते हैं, जिससे ई-रिक्शा खरीदने वाले को अलग से लोन के लिए भागदौड़ करनी नहीं पड़ती है।

ई-रिक्शा खरीदते समय शोरूम में बैठे-बैठे ई-रिक्शा डीलर की टाई आप लोन संस्था ई-रिक्शा खरीदने वाले को फाइनेंस की सुविधा उपलब्ध कराती है।

ई-रिक्शा ऋण का भुगतान न करने की स्थिति में क्या होता है?

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यदि आप अपने ई-रिक्शा के लिए ऋण चुकाने में विफल रहते हैं, तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। यदि आप ऋण पर चूक करते हैं तो वित्त कंपनी को वाहन को जब्त करने का अधिकार है और आपके क्रेडिट स्कोर को भी प्रभावित कर सकता है।

लोन न चूका पाने पर आपको डिफाल्टर घोषित किया जाता है, जिससे आप भबिस्य में कभी भी लोन नहीं ले सकेंगे। 

अगर नहीं चुका पा रहे हैं लोन तो न हों परेशान यहां पढ़ें अपने ये अधिकार

अंतिम शब्द

अंत में, जब तक आपके पास आवश्यक दस्तावेज हैं, ई-रिक्शा ऋण प्राप्त करना एक सीधी प्रक्रिया है। इन दस्तावेजों को इकट्ठा करने और ऋण आवेदन प्रक्रिया की तैयारी करने के लिए समय निकालकर पर आप ई-रिक्शा ऋण के लिए स्वीकृत होने की संभावना को बढ़ाते हैं और इससे आप अपने व्यवसाय को नई ऊंचाइयों पर ले जा सकते हैं।

FAQ – सवाल जवाब

Q. मैं ई-रिक्शा ऋण कहाँ से ले सकता हूँ?

आप ई-रिक्शा ऋण बैंक और फाइनेंस एजेंसी से आसानी से ले सकते है।

Q. ई रिक्शा की कीमत कितनी है?

ई-रिक्शा की शुरुआती कीमत कुछ 1,30,000 से 2,00,000 तक हो सकती है।

Q. ई-रिक्शा ऋण के लिए कितना प्रतिशत तक दिया जाता है?

यदि आप ई-रिक्शा ऋण लेते हैं, तो आप ई-रिक्शा की कीमत का 75% से 85% फाइनेंस कर सकते हैं।

Q. ई रिक्शा की बैटरी की कीमत क्या है?

बाजार में ई-रिक्शा की बैटरी की कीमत 10,000 से लेकर अधिकतम 25,000 तक होती है।

Q. ई रिक्शा पर कितना लोन मिलता है?

लोन राशि ई रिक्शा की कीमत का 70% से 80% तक मिल जाता है।

Q. ई रिक्शा लोन पर क़िस्त कितनी होगी?

यदि आपकी ई रिक्शा की कीमत 1 लाख रूपए है, तो आपको 60 महीने की चुकौती अवधि और 10.5% की ब्याज दर के साथ 2,149 रूपए प्रति माह क़िस्त देनी होगी।

यह भी पढ़े:

Previous articleपशुपालन लोन लेने के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?
Next articleऑटो रिक्शा डाउन पेमेंट कितना है?
दोस्तों, मेरा नाम जय है और मैं पश्चिम बंगाल के एक छोटे से जिले से हूँ। मुझे बैंकिंग और फाइनेंस के बारे में नई चीजें सीखने और दूसरों के साथ अपना ज्ञान साझा करने में आनंद मिलता है, इस कारण से मैंने इस ब्लॉग को शुरू किया है और आगे भी लोगों की मदद करने के लिए नए लेख और जानकारी साझा करता रहूंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here